राणा दग्गुबाती: बॉलीवुड वाले प्रभास और महेश बाबू को नहीं जानते थे; कहा- मेरा दोस्त महेश बाबू को नम्रता शिरोडकर के पति के तौर पर जानता था

राणा दग्गुबाती: बॉलीवुड वाले प्रभास और महेश बाबू को नहीं जानते थे; कहा- मेरा दोस्त महेश बाबू को नम्रता शिरोडकर के पति के तौर पर जानता था

बाहुबली में भल्लाल देव का किरदार निभाने वाले एक्टर राणा दग्गुबाती इन दिनों अपनी अपकमिंग वेब सीरीज राणा नायडू का प्रमोशन कर रहे हैं। इसी दौरान उनसे तेलुगु फिल्मों की बढ़ती लोकप्रियता पर सवाल किया गया। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि अभी कुछ साल पहले तक बॉलीवुड के कुछ लोग प्रभास और महेश बाबू जैसे स्टार्स को नहीं जानते थे

वो प्रभास की फिल्मों का नाम पूछने लगते थे। वहीं महेश बाबू को नम्रता शिरोडकर के पति के तौर पर जाना जाता था। हालांकि उसके बाद बाहुबली रिलीज हुई और सब कुछ बदल गया। जो नहीं जानते थे वो भी अब अच्छे से जानने लगे।

दोस्त ने पूछा -प्रभास कौन है..

राणा दग्गुबाती ने कहा, मैं बाहुबली की शूटिंग के वक्त कुछ समय के लिए बाहर था। मेरे एक दोस्त ने पूछा कि फिल्म का लीड एक्टर कौन है। मैंने प्रभास का नाम लिया, उसने पूछा कि प्रभास कौन है। अब मुझे समझ नहीं आया कि मैं उसे कैसे समझाऊं। मैंने कुछ फिल्मों के नाम बताए, लेकिन उसने उनमें से कोई भी फिल्म नहीं देखी थी।

उसने मुझसे कहा कि वो सिर्फ एक तेलुगु एक्टर को जानता है और वो है चीनू का पति। मैंने सोचा कि ये चीनू कौन है, फिर मुझे अचानक याद आया कि चीनू तो नम्रता शिरोडकर का नाम है। मैं हैरान रह गया कि वो महेश बाबू की बात कर रहा था। तब मैंने उससे कहा कि चार-पांच साल रुको, हमारी एक बड़ी आर्मी आने वाली है।

हिंदी और तेलुगु ऑडियंस एक जैसी है

हिंदी क्षेत्र में तेलुगु फिल्मों की बढ़ती लोकप्रियता पर बात करते हुए राणा दग्गुबाती ने कहा, मुझे यकीन था कि एक दिन ऐसा जरूर होगा। मेरी दूसरी फिल्म हिंदी में थी। मुझे लगता है कि हिंदी और तेलुगु ऑडियंस में काफी चीजें समान हैं।

हम अभी भी बेवजह भाषा के चक्कर में फंसे हैं, एक दिन ऐसा जरूर आएगा जब सब एक हो जाएगा। जब मैं हिंदी फिल्में बनाता हूं तो लोगों को लगता है कि तेलुगु फिल्म बना रहा हूं वहीं जब तेलुगु फिल्म बनाता हूं तो लोगों को लगता है कि हिंदी फिल्में बना रहा हूं।

भल्लालदेव के रोल में फेमस हुए थे राणा

राणा की बात करें तो उन्होंने कोणिक इंस्टीट्यूट ऑफ इमेजिंग एंड टेक्नोलॉजी से फोटोग्राफी का कोर्स किया है। पढ़ाई पूरी करने के बाद वो हैदराबाद में अपने पिता का प्रोडक्शन हाउस संभालने लगे।

राणा ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत साल 2010 में आई पॉलिटिकल थ्रिलर फिल्म लीडर से की थी। इसके बाद उन्होंने कई तमिल फिल्मों में काम किया, लेकिन उन्हें असली पहचान फिल्म बाहुबली से मिली। इस फिल्म में उन्होंने विलेन भल्लालदेव का रोल प्ले किया था।

इसके अलावा हिंदी फिल्म गाजी अटैक से भी उन्हें काफी लोकप्रियता मिली थी। इस फिल्म में भारत-पाक के बीच सबमरीन यूज करते हुए अंडरवाटर वॉर दिखाया गया है। फिल्म की 80% शूटिंग सबमरीन के अंदर की गई थी। राणा के अलावा फिल्म में के के मेनन और अतुल कुलकर्णी ने भी शानदार काम किया है।

Leave a Reply

Required fields are marked *