मथुरा:बांके बिहारी कॉरिडोर का विरोध 8वें दिन जारी,लोगों ने जलाई बुलडोजर की फोटो, बोले- इसकी जरूरत नहीं, यहां कुंज गलियां बिहारी जी की पहचान

मथुरा:बांके बिहारी कॉरिडोर का विरोध 8वें दिन जारी,लोगों ने जलाई बुलडोजर की फोटो, बोले- इसकी जरूरत नहीं, यहां कुंज गलियां बिहारी जी की पहचान

मथुरा के वृंदावन में बांके बिहारी जी के प्रस्तावित कॉरिडोर को लेकर विरोध 8वें दिन भी जारी रहा। विरोध कर रहे लोगों ने बुलडोजर की फोटो जलाकर अपने आक्रोश का इजहार किया। लगातार बढ़ रहे विरोध को देखते हुए देर शाम डीएम और एसएसपी ने आक्रोशित लोगों के साथ बैठक की और सुझावों का आदान-प्रदान किया।

बुलडोजर का फोटो जलाकर किया आक्रोश का इजहार

बांके बिहारी कॉरिडोर को लेकर विरोध लगातार बढ़ता जा रहा है। आंदोलन के 8वें दिन प्रदर्शनकारियों ने मंदिर की 3 नंबर गेट की गली के सामने बुलडोजर के फोटो जलाकर अपने आक्रोश का इजहार किया। प्रदर्शनकारियों ने बुलडोज़र की फोटो को जलाकर सरकार को ये संदेश दिया है की वृंदावन की कुंज गलियों में बुलडोज़र की कोई आवश्यकता नहीं है। ये कुंज गलियां बिहारी जी की पहचान है। बुलडोज़र को यहां से दूर ले जाया जाए वरना अभी बुलडोज़र की फोटो जलाई जा रही है। अगर ज़रूरत पड़ी तो बृजवासी बुलडोज़र को जलाने पर भी पीछे नहीं हटेगा।

विधायक ,सांसद के बयान पर नहीं है भरोसा

प्रदर्शन कर रहे लोगों ने कहा कि मथुरा की सांसद हेमा मालिनी एवं विधायक श्री कांत शर्मा का कहना है की कॉरिडोर में बृज की प्राचीन धरोहरों एवं कुंज गलियों के स्वरूप को कोई नुक़सान नहीं पहुँचाया जाएगा एवं बृजवासियों की भावना का भी पूरा ध्यान रखा जाएगा। इन सब बयानों पर अब भरोसा नहीं है। दो दो बार दोनों को मौक़ा दिया परंतु इन्होंने हर बार निरास किया है। अब क़तई इनकी बातों में नही आने वाले है।

कलेक्ट्रेट सभागार में हुई मीटिंग

कॉरिडोर के तेज होते विरोध के बीच गुरुवार की देर शाम डीएम पुलकित खरे और एसएसपी शैलेश पांडे व नगर आयुक्त अनुनय झा ने आक्रोशित गोस्वामी,व्यापारी और तीर्थ पुरोहित के साथ एक बैठक की। कलेक्ट्रेट सभागार में हुई इस मीटिंग में विरोध के कारणों को जानने का प्रयास किया। करीब ढाई घंटे तक चली बैठक में सुझावों को लेकर आदान प्रदान हुआ।

डीएम ने कहा अफवाहों पर ध्यान न दें

बैठक में बांके बिहारी कॉरिडोर और वृंदावन की समस्याओं पर वार्ता की गई। गोस्वामी समाज, सेवायत, मन्दिर प्रबंधक, व्यापारी एवम तीर्थ पुरोहित ने अपनी समस्यायें रखी। जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि भ्रामक एवं अफवाहों पर ध्यान न दें और जिस किसी को कोई समस्या है वह जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एवं नगर आयुक्त के समक्ष जनसुनवाई के दौरान अपनी समस्या एवं सुझाव दे सकते हैं। बैठक में जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एवं नगर आयुक्त द्वारा जो भी भय एवं शंकायें थी उन्हें दूर करने का प्रयास किया । अधिकारियों ने कहा कि उनकी समस्याओं के निस्तारण के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है। लोगों को घबराने की कोई जरूरत नहीं है, पुलिस एवं प्रशासन वृंदावन के लोगों के साथ है।

न्यायालय के निर्देश पर कराया सर्वे

बैठक में डीएम ने कहा कि न्यायालय के निर्देशानुसार सर्वे कराया गया है। जिसका निर्णय न्यायालय में विचाराधीन है। प्रस्ताव को सभी के हितों का ध्यान में रखते हुए बनाया गया है, किसी का नुकसान नहीं होगा। भविष्य में यदि कॉरिडोर बनेगा, तो दुकानदारों को पूर्व की भांति रजिस्टर्ड दुकानें आवंटित की जाएगी और निवासियों को सरकार द्वारा अच्छा मुआवजा दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि यह सब एक प्रस्ताव है, जो कि न्यायालय में विचाराधीन है। सभी लोग गलत अफवाहों से दूर रहें।

यह रहे उपस्थित

बैठक में नगर मजिस्ट्रेट सौरभ दुबे, सीओ सदर प्रवीन मलिक, मन्दिर प्रबंधक मुनीष शर्मा, ज्ञानेन्द्र किशोर गोस्वामी, रजत गोस्वामी, घनश्याम गोस्वामी, बालकृष्ण गोस्वामी, दिनेश गोस्वामी, दीपचन्द्र गोस्वामी,अमित गौतम,गोविंद खंडेलवाल,नीरज गौतम, श्री गौतम,सुभाष खंडेलवाल,अलौकिक शर्मा,प्रिंस आदि उपस्थित रहे ।

Leave a Reply

Required fields are marked *