अखिलेश यादव पर भी होनी चाहिए एफआईआर - सुभासपा प्रवक्ता का बयान

अखिलेश यादव पर भी होनी चाहिए एफआईआर - सुभासपा प्रवक्ता का बयान

आज हरदोई में पार्टी कार्यकर्ताओ से मिलने पहुंचे सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुनील अर्कवंशी से जब Khanzar Sutra ने सवाल कियातब ---

सवाल --- बीजेपी युवा मोर्चा की सोशल मीडिया इंचार्ज रिचा राजपूत ने सोशल मीडिया पर जो बयान दिए उन्होंने अखिलेश यादव की पत्नी और उनकी बेटी अदिति को लेकर इस पर काफी हंगामा मचा हुआ आपकी पार्टी और आपका क्या स्टैंड है उस पर ---

जबाब ---देखिए इसकी शुरुआत कहां से हुई थी इसके बारे में पीछे भी जाना पड़ेगा क्योंकि जैसे आपने देखा कभी समाजवादी पार्टी की तरफ से जो भी बयान आये समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता जो ट्विटर हैंडल के द्वारा जो बयान दिया वह समाजवादी पार्टी के लोगों ने जो बयान दिया तो शुरूआत वहीं से हुई जो रिचा राजपूत जो भाजपा की तरफ से बयान आए उनको भी इस तरह का बयान राजनीति में नहीं देना चाहिए था क्योंकि इस तरह का बयान राजनीतिक के व्यक्ति को नहीं देना चाहिए और रही बात बबूल जब बोये थे तो कांटे ही होंगे और जिस तरीके से अखिलेश यादव ने अमर्यादित टिप्पणी करने अग्रवाल जी का समर्थन करने का काम किया और यहाँ तक उनसे मुलाकात करने का भी काम किया और जब उनके ऊपर मुकदमा लिखा जा सकता था तो अखिलेश यादव के ऊपर भी मुकदमा लिखा जाना चाहिए था क्योंकि उनकी पार्टी की तरफ से उनके ट्विटर हैंडिल चलाने का काम किया जा रहा था अखिलेश यादव के ऊपर भी मुकदमा लिखा जाना चाहिए यह मांग सुहेल देव भारतीय समाज पार्टी करती है और कोई भी पार्टी चाहे भारतीय जनता पार्टी हो चाहे समाजवादी पार्टी हो चाहे कोई भी दल हो इस तरह की भाषा का प्रयोग नहीं करना चाहिए बिलकुल इसकी भर्त्सना करती है सुहेल देव समाज पार्टी 


सवाल ---विपक्षी दल आरोप लगा रहे हैं जिस तरह से जगन अग्रवाल की गिरफ्तारी हुई इसी तरह की अमर्यादित टिप्पणी उन्होंने की थी रिचा राजपूत में भी की क्या उनकी गिरफ्तारी होनी चाहिए ---

जवाब --कोई भी दल या कोई भी व्यक्ति इस तरह के शब्दों का प्रयोग करता है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए दल यहां नहीं देखना चाहिए वह किस दल से है जो अगर इस तरह की भाषा का प्रयोग किया है राजनीति में इस तरह का भाषा प्रयोग नहीं करना चाहिए कार्रवाई सभी के ऊपर होनी चाहिए दल को नहीं देखना चाहिए


Leave a Reply

Required fields are marked *