कांग्रेसी नेता राजीव गांधी की तर्ज पर घरों तक पहुंचेंगे:कांग्रेस का लोगों से जुड़ने का फार्मूला, हर घर पहुंचकर लोगों की समस्याएं नेता सुलझाएंगे

कांग्रेसी नेता राजीव गांधी की तर्ज पर घरों तक पहुंचेंगे:कांग्रेस का लोगों से जुड़ने का फार्मूला, हर घर पहुंचकर लोगों की समस्याएं नेता सुलझाएंगे

दशकों बाद कांग्रेस राजस्थान में एक बार फिर लोगों के घरों तक जाकर उनसे जुड़ने की शुरुआत करेगी। महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और फिर राजीव गांधी के दौर में जिस तरह कांग्रेस आम लोगों से जुड़ी थी ठीक उसी तरह अब कांग्रेस लोगों से जुड़ाव करेगी। कांग्रेस 26 जनवरी से हाथ से हाथ जोड़ो अभियान लॉन्च करने जा रही है। इसी के तहत कांग्रेस ने लोगों के घर तक पहुंचने की तैयारी की है।

घर-घर आगे से जाकर मिलेंगे नेता

कांग्रेस का यह अभियान 26 जनवरी से शुरू होकर पूरे दो महीने चलेगा। इस दौरान कांग्रेस प्रदेश से लेकर जिला, ब्लॉक और गांव के स्तर तक जाएगी। इस अभियान के तहत कांग्रेस का सबसे बड़ा फोकस आम लोगों से जुड़ना है। कांग्रेस के तमाम बड़े नेता इस अभियान के दौरान खुद आम लोगों के घरों तक पहुंचेंगे और उनसे उनकी समस्याएं सुनेंगे।

इसके लिए कांग्रेस ने सभी 33 जिलों में प्रभारी लगा दिए हैं। इन्हें अलग-अलग जिलों की जिम्मेदारी दी गई है। इस अभियान की पूरी रूपरेखा कांग्रेस रविवार 8 जनवरी को तय करेगी। रविवार को कांग्रेस की खास बैठक होगी। इसमें शामिल होने प्रदेश प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा भी आएंगे। इसके अलावा सीएम अशोक गहलोत, स्टीयरिंग कमेटी सदस्य रघुवीर मीणा, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट सहित तमाम कांग्रेसी नेता शामिल होंगे।

खींचतान से हुए असर को ठीक करने की कोशिश

कांग्रेस राजस्थान में आपसी खींचतान को खत्म करने की कोशिश में है। पिछले लगभग 3 साल में कांग्रेस में गुटबाजी और खींचतान के चलते कार्यकर्ता और आम लोगों से कांग्रेस का कनेक्शन कमजोर पड़ा था। ऐसे में अब इस साल विधानसभा चुनाव को देखते हुए भी पार्टी उस कनेक्शन को दोबारा से जोड़ने की कोशिश में है। यही वजह है कि नेता हर घर जाकर लोगों से बात करेंगे और उनसे खुद आगे से मिलेंगे।

जो समस्याएं आएंगी उनका निस्तारण कराएंगे

हाथ से हाथ जाेड़ो अभियान के तहत अजमेर के प्रभारी बनाए गए मुमताज मसीह कहते हैं कि हम लोगों से उनके घर जाकर मिलेंगे। उनकी बात सुनेंगे, उनकी समस्याएं जानेंगे। इसके बाद उनकी समस्याओं को प्रशासन या सरकार के स्तर पर जहां भी कहना होगा वहां कहकर दूर कराएंगे। आम जनता से जो जुड़ाव कहीं अगर कम हुआ है तो उसे हासिल करने का उसे मजबूत करने का काम हम करेंगे।

राजीव गांधी की तर्ज पर घरों तक पहुंचेंगे

प्रतापगढ़ के प्रभारी लगाए गए अनुसूचित जाति वित्त एंव विकास आयोग के अध्यक्ष डॉ. शंकर यादव कहते हैं कि राजीव गांधी 90 के दशक में लोगों के घरों तक पहुंचते थे। अपने दौरों में घरों में जाकर वे खाना खा लिया करते थे। उसी तरह की परम्परा, उसी तरह का जुड़ाव हम इस अभियान के माध्यम से लोगों से करेंगे। राहुल गांधी ये चाहते हैं कि कांग्रेस का नेता और कार्यकर्ता हर घर तक पहुंचे। उसी के तहत यह अभियान चलाया जाएगा।

कार्यकर्ताओं को भी एकजुट करेगी कांग्रेस

हाथ से हाथ जोड़ो के एक्टिविटी प्रोग्राम के अलावा कांग्रेस इस अभियान से अपने कार्यकर्ताओं को भी एकजुट करेगी। पिछले 2.5 साल से नियुक्तियां नहीं होने और संगठन पर फोकस नहीं होने से जो बिखराव हुआ था उसे भी कांग्रेस दुरुस्त करेगी। टोंक के प्रभारी बनाए गए विप्र कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष महेश शर्मा ने कहा कि हमारा फोकस छोटे से छोटे कार्यकर्ता और आम पब्लिक तक पहुंचना है। उनसे मिलेंगे तो वो भी हमें फीडबैक देंगे कि उनके मन में क्या है।

Leave a Reply

Required fields are marked *