वित्तमंत्री बनने के बाद पहला राजस्थान दौरा निर्मला सीतारमण का:8 जनवरी को कोटा में क्रेडिट आउटरीच प्रोग्राम, ओम बिरला के प्रस्ताव पर आ रही वित्तमंत्री

वित्तमंत्री बनने के बाद पहला राजस्थान दौरा निर्मला सीतारमण का:8 जनवरी को कोटा में क्रेडिट आउटरीच प्रोग्राम, ओम बिरला के प्रस्ताव पर आ रही वित्तमंत्री

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण रविवार 8 जनवरी को कोटा आएंगी। वित्तमंत्री बनने के बाद निर्मला सीतारमण का राजस्थान में यह पहला अधिकारिक दौरा होगा। निर्मला सीतारमण के इस दौरे के पीछे बड़ा रोल लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला का है। माना जा रहा है कि बिरला के कहने पर ही निर्मला सीतारमण राजस्थान आ रही हैं। यही वजह है कि राजस्थान में यह कार्यक्रम कोटा में हो रहा है। राजस्थान में क्रेडिट आउटरीच प्रोग्राम के तहत लोन बांटने के लिए खुद सीतारमण राजस्थान आएंगी।

2017 में रक्षामंत्री के तौर पर आई थी सीतारमण

इससे पहले अधिकारिक तौर पर निर्मला सीतारमण 2017 में राजस्थान आई थी। तब वे रक्षामंत्री के तौर पर राजस्थान आई थी। रक्षामंत्री बनने के ठीक बाद सितम्बर 2017 में सीतारमण ने पोकरण का दौरा किया था। यहां बाड़मेर के उत्तरलाई में बने वायु सेना के स्टेशन का दौरा सीतारमण ने किया था। उसके बाद से अधिकारिक तौर पर सीतारमण का राजस्थान आना नहीं हुआ।

पहली बार इस स्तर पर राजस्थान में कार्यक्रम

वित्त मंत्रालय देशभर में क्रेडिट आउटरीच प्रोग्राम करता है। मगर राजस्थान में पहली बार इस स्तर पर यह कार्यक्रम किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में सरकार के अधिकारी और राजस्थान बीजेपी के नेता भी मौजूद रहेंगे। कार्यक्रम को देखते हुए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला पहले से कोटा में हैं। इसकी तैयारियों को लेकर बिरला तीन दिन तक कोटा में घूमे और जिन्हें लोन दिया जाना है उस वर्ग के लोगों की स्थिति का जायजा लिया।

ओम बिरला राजस्थान में लगातार सक्रिय

लोकसभा अध्यक्ष होने के साथ-साथ ओम बिरला राजस्थान में लगातार सक्रिय हैं। अपने क्षेत्र कोटा में तो उनका दखल रहता ही है। इसके अलावा राजस्थान पर भी लगातार वे अपना दखल बनाए हुए हैं। अब निर्मला सीतारमण को लाकर बिरला नया पॉलिटिकल मैसेज दे रहे हैं। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि ओम बिरला के सक्रिय रहने के राजस्थान में कई मायने हैं।

छोटे व्यापारियों को विस्तार देने की कोशिश

लघु उद्यमियों के फायदे के लिए सीधे तौर पर होने वाला कार्यक्रम है। इसमें लोन राजस्थान के स्ट्रीट वेंडर्स, लघु उद्यमियों, पशुपालकों वगैरह को बांटे जाएंगे। लघु उद्यमियों और स्ट्रीट वैंडर्स के व्यापार को विस्तार देने के उद्धेश्य से यह किया जा रहा है। इसके लिए पीएम स्वनिधि योजना और मुद्रा योजना के तहत सरकार बैंकों के माध्यम से लोगों को सस्ती ब्याज दरों पर लोन उपलब्ध करवाएंगे। इस कार्यक्रम के दौरान सभी बैंक कोटा के दशहरा मैदान में अपनी स्टॉल लगाएंगे।

1407 करोड़ से ज्यादा के लोन दिए जाएंगे : कमलेश चौधरी

इसे लेकर राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति राजस्थान के संयोजक और बैंक ऑफ बड़ौदा राजस्थान के जनरल मैनेजर कमलेश कुमार चौधरी का कहना है कि 8 जनवरी को क्रेडिट आउटरीच के इस प्रोग्राम में 31,000 से ज्यादा बैनिफिशियरीज को 1407 करोड़ से ज्यादा के लोन दिए जाएंगे। इसमें मुख्य रूप से प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, स्वयं सहायता समूह क्रेडिट लिंकेज, किसान क्रेडिट कार्ड, स्टैंड अप इंडिया योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम जैसी सरकारी योजनाओं के तहत लोन दिए जाएंगे। इस प्रोग्राम से लोन का फ्लो बढ़ेगा।

Leave a Reply

Required fields are marked *