शाकिब अल हसन बनना चाहते हैं अनिल कपूर के नायक: बताया- क्या-क्या बदलना चाहते हैं?

शाकिब अल हसन बनना चाहते हैं अनिल कपूर के नायक: बताया- क्या-क्या बदलना चाहते हैं?

नई दिल्ली: अनिल कपूर की नायक फिल्म तो शायद आपने देखी ही होगी या नहीं देखी होगी तो सुना तो जरूर होगा. उसमें शिवाजी राव (अनिल कपूर) एक दिन के मुख्यमंत्री बनते और ऑन द स्पॉट कई फैसले लेते हैं. अब उसी तर्ज पर बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब अल हसन भी अपने क्रिकेट बोर्ड की कायापलट कर देना चाहते हैं. हालांकि, ऐसा वो सिर्फ सीईओ बनकर कर सकते हैं. उन्होंने बांग्लादेश प्रीमियर लीग का सीईओ बनने की इच्छा जताई है. ताकि लीग में जरूरी बदलाव कर सकें. उन्होंने बांग्लादेश प्रीमियर लीग (बीपीएल) की मार्केटिंग में नाकाम रहने पर अपने देश के क्रिकेट बोर्ड की तीखी आलोचना भी की,.

शाकिब अल हसन ने बांग्लादेश प्रीमियर लीग में सुधार करने की पेशकश की है. जब उनसे यह सवाल पूछा गया कि अगर उन्हें बीपीएल का सीईओ बना दिया जाता है को वो क्या बदलाव करना चाहेंगे? इस पर ऑलराउंडर ने कहा कि वो खिलाड़ियों के ड्राफ्ट सही समय पर तैयार करते और टूर्नामेंट ऐसे वक्त कराते, जब कोई दूसरा टी20 टूर्नामेंट का आयोजन नहीं हो रहा होता. हमारे पास सभी आधुनिक तकनीक और घरेलू और विदेशों के लिए अच्छे प्रसारक होते.

मैं एक-दो महीने में बीपीएल में सब ठीक कर दूंगा: शाकिब

शाकिब ने संवाददाताओं से कहा, अगर उन्होंने मुझे बीपीएल सीईओ (मुख्य कार्यकारी अधिकारी) बनाया, तो मुझे सब कुछ ठीक करने में एक या दो महीने लगेंगे. आपने नायक फिल्म देखी है? अगर आप कुछ करना चाहते हैं, तो आप इसे एक दिन में कर सकते हैं.

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) द्वारा घरेलू टी20 लीग बीपीएल साल 2012 में छह फ्रेंचाइजी टीमों के साथ शुरू की गई थी. अब इसमें टीमों की संख्या 7 हो गई है.बीपीएल में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले शाकिब ने दावा किया कि बीसीबी ने कभी भी टूर्नामेंट को लोकप्रिय बनाने का कोई इरादा नहीं दिखाया. उन्होंने कहा कि मैं बीपीएल के स्तर के बारे में नहीं जानता. यह कहना मुश्किल है कि हम इसे सफल नहीं बना सकते या ऐसा करना ही नहीं चाहते हैं.

Leave a Reply

Required fields are marked *