धोनी के जिगरी दोस्त ने टेस्ट में ठोका टी20 के अंदाज में दोहरा शतक

धोनी के जिगरी दोस्त ने टेस्ट में ठोका टी20 के अंदाज में दोहरा शतक

नई दिल्ली: टीम इंडिया से 2 साल से बाहर चल रहे बैटर केदार जाधव ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में वापसी पर बल्ले से कोहराम मचा दिया है. महाराष्ट्र की तरफ से खेल रहे केदार ने असम के खिलाफ शानदार दोहरा शतक ठोका है. उन्होंने इस मैच में टी20 के अंदाज में बल्लेबाजी की. वो ट्रिपल सेंचुरी से भले ही चूक गए. लेकिन उन्होंने 283 गेंद पर 283 रन ठोके. अपनी इस पारी में केदार ने 21 चौके और 12 छक्के उड़ाए. यानी बाउंड्री से ही 33 गेंद में 156 रन ठोक डाले.

बता दें कि केदार ने तीन साल बाद फर्स्ट क्लास में वापसी की है और अपने कमबैक मैच में ही असम के गेंदबाजों की जमकर कुटाई की. केदार उन्होंने अपना पिछला फर्स्ट क्लास मैच दिसंबर 2019 में खेला था.

राहुल त्रिपाठी और ऋतुराज गायकवाड़ के भारतीय टीम में शामिल होने की वजह से केदार को रणजी ट्रॉफी मैच के लिए महाराष्ट्र के प्लेइंग-XI में मौका मिला था और महेंद्र सिंह धोनी के जिगरी दोस्त ने इस मौके को भुनाते हुए सीधे तूफानी दोहरा शतक ठोका. असम की पहली पारी के 274 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए महाराष्ट्र ने 95 रन पर दो विकेट गंवा दिए थे. इसके बाद केदार बल्लेबाजी के लिए उतरे थे. जाधव ने दूसरे दिन स्टंप्स से पहले 144 रन बनाए थे और तीसरे दिन रिटायर्ड हर्ट होने से पहले 187 गेंद पर 183 रन बना लिए थे. महाराष्ट्र का चौथा विकेट गिरने के बाद जाधव दोबारा बल्लेबाजी के लिए लौटे और अपना दोहरा शतक पूरा किया.

धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से खेल चुके केदार रियान पराग की गेंद पर शुभम मंडल के हाथों कैच आउट हुए. केदार का 2018 के बाद फर्स्ट क्लास क्रिकेट में पहला शतक है. और 2013-14 के रिकॉर्ड-ब्रेकिंग रणजी ट्रॉफी सीजन के बाद उनका यह पहला 200 प्लस स्कोर है. केदार ने 2012-13 के रणजी ट्रॉफी में 17 पारी में 1223 रन बनाए थे. जाधव ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 327 रन का अपना बेस्ट स्कोर 2012-13 में उत्तर प्रदेश के खिलाफ बनाया था.

बता दें कि जाधव टीम इंडिया के लिए 83 वनडे मैच खेल चुके हैं, जिसमें 1389 रन बानाए हैं. इस दौरान उन्होंने 2 शतक और 6 अर्धशतक जमाए हैं, जबकि भारत के लिए उन्होंने 9 टी20 खेले हैं

Leave a Reply

Required fields are marked *