बाउंड्री के 3 मीटर बाहर कैच, विवाद आउट देने पर:फील्डर ने 2 बार बॉल को उछाला,पकड़ा 3 बार

बाउंड्री के 3 मीटर बाहर कैच, विवाद आउट देने पर:फील्डर ने 2 बार बॉल को उछाला,पकड़ा 3 बार

ऑस्ट्रेलिया की बिग बैश लीग में नए साल के पहले ही दिन एक कैच पर कॉन्ट्रोवर्सी हो गई। ब्रिसबेन हीट और सिडनी सिक्सर्स के बीच मैच हुआ। 19वें ओवर की दूसरी बॉल पर सिक्सर्स टीम के जॉर्डन सिल्क ने एक्स्ट्रा कवर की ओर हवा में शॉट खेला। जहां हीट टीम के माइकल नेसर ने 3 प्रयास में अद्भुत कैच पकड़ लिया। इसी कैच पर अब कॉन्टोवर्सी होने लगी है।

क्या है कॉन्ट्रोवर्सी?

नेसर ने बाउंड्री के अंदर बॉल को पकड़ा और बॉल को हवा में पहले उछाल दिया। बॉल बाउंड्री के बाहर गई। नेसर करीब 2-3 मीटर बाउंड्री के बाहर गए और हवा में उछलते हुए बॉल को दूसरी बार उछाल कर ग्राउंड के अंदर पहुंचा दिया। फिर वापस बाउंड्री के अंदर गए और कैच पूरा कर लिया। अंपायर ने सिल्क को आउट दिया और उनकी टीम मैच हार गई।

इस कैच के बाद क्रिकेट एक्सपर्ट्स भी कन्फ्यूज हो गए। कई एक्सपर्ट बोले कि एक बार बाउंड्री के बाहर जाने के बाद फील्डर कैच ले तो उसे लीगल नहीं मानना चाहिए। वहीं, कइयों ने इस कैच को लीगल माना। आगे खबर में हम जानेंगे कि इस तरह के कैच पर ICC का आधिकारिक नियम क्या कहता है। साथ ही इस तरह के कैच का दूसरा उदाहरण भी देखेंगे।

क्या कहता है MCC का नियम?

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) के लिए क्रिकेट के नियम बनाने वाले मेरीलबोन क्रिकेट क्लब (MCC) के रूल नंबर 19.5.2 में इस तरह के कैच का जिक्र है। इसके अनुसार, कैच लेते वक्त बॉल को पहली बार छूते समय फील्डर के पैर बाउंड्री के अंदर होने चाहिए। फिर कैच पूरा करते वक्त भी फील्डर के पैर बाउंड्री के अंदर ही होने चाहिए।

बॉल से इन दोनों कॉन्टैक्ट के बीच फील्डर बाउंड्री से बाहर जा सकता है। वो बाउंड्री के बाहर हवा में उछलकर बॉल को ग्राउंड के अंदर भी फेंक सकता है, लेकिन बाउंड्री के बाहर खड़े होकर बॉल को नहीं छू सकता। ऐसा करने से कैच कम्प्लीट नहीं माना जाएगा और बैटर नॉटआउट रहेगा।

नेसर का कैच नियमों के खिलाफ क्यों नहीं?

बिग बैश में नेसर ने कैच लेते वक्त MCC के नियमों का पालन किया। पहली बार बॉल को छूते वक्त वह बाउंड्री के अंदर थे और कैच पूरा करने के दौरान भी वह बाउंड्री के अंदर ही थे। इस बीच वह बाउंड्री के बाहर भी गए, लेकिन वहां खड़े होकर बॉल को नहीं छुआ। उन्होंने हवा में उछलकर बॉल को ग्राउंड के अंदर फेंका था। इसीलिए उनका कैच कम्प्लीट माना गया और सिल्क आउट करार दिए गए।

बाउंड्री के बाहर फील्डर क्यों नहीं खड़ा कर सकते?

कई एक्सपर्ट इस बात पर भी बहस करते हैं कि अगर फील्डर बॉउंड्री के बाहर जाकर कैच ले सकता है, तो उसे शॉट लगने से पहले ही बाहर खड़ा क्यों नहीं कर देते। इसका जिक्र भी MCC के रूल नंबर 19.5.2 में ही है। इसके अनुसार, बॉल फेंके जाने से पहले सभी फील्डर्स को बाउंड्री के अंदर ही रहना होगा।

बॉल फेंके जाने के बाद भी फील्डर को ग्राउंड के अंदर एक बार गेंद को छूना होगा। इसके बाद ही वह बाउंड्री के बाहर जाकर कैच या बाउंड्री बचाने का प्रयास कर सकता है। वहीं, बॉल फेंके जाने से पहले अगर फील्डर बाउंड्री के बाहर खड़ा रहता है तो उस बॉल को नो बॉल करार दिया जाएगा।

रेन्शो के कैच पर भी हुआ था विवाद

बिग बैश में नेसर से पहले ब्रिसबेन हीट के मैथ्यू रेन्शो के कैच पर भी इसी तरह का विवाद हुआ था। 9 जनवरी 2020 को होबार्ट हरिकंस और ब्रिसबेन हीट के बीच मैच के दौरान कॉन्ट्रोवर्सी हुई थी। हीट के बॉलर बेन कटिंग की बॉल पर हरिकंस के मैथ्यू वेड ने स्लॉग शॉट खेला।

बॉल डीप मिड-विकेट पर गई। जहां मैथ्यू रेन्शो ने बाउंड्री के बाहर से हवा में उछलकर बॉल को साथी फील्डर टॉम बैंटन को दिया। बैंटन ने बाउंड्री के अंदर कैच पूरा किया और वेड 61 रन के स्कोर पर आउट हो गए।

Leave a Reply

Required fields are marked *