प्रकोप एटा में भीषड़ शीत लहर का:जरूरतमंदों के लिए अलाव नहीं जल रहे, तापमान 7 डिग्री सेलसियस

प्रकोप एटा में भीषड़ शीत लहर का:जरूरतमंदों के लिए अलाव नहीं जल रहे, तापमान 7 डिग्री सेलसियस

एटा में नए साल में शीत लहर का प्रकोप जारी है। नव वर्ष के प्रथम दिन से ही यहां पर सूर्य भगवान के दर्शन नहीं हुए हैं। इस सर्दी में एटा जनपद के प्रमुख चौराहों और भीड़ भाड़ वाली जगहों पर अलाव जलते हुए नहीं दिखायी दे रहे हैं।

यू तो एटा नगर पालिका परिषद शर्दी के मौसम में अलाव जलाने का काम करती है, लेकिन शहर में सरकारी बस अड्डा, तहसील कैम्पस या एक दो अन्य जगहों पर ही अलाव जलते हुए दिखाई दे रहे हैं। इसके अतिरिक्त एटा जनपद के तहसील प्रसाशन ने भी सर्दी में आलाव जलाने की व्यवस्था की है, जो कि नाकाफी साबित हो रही है।

जनजीवन अस्त व्यस्त

एटा जनपद में सर्दी का आलम ये है कि तापमान दिन के 12 बजे भी 7 डिग्री सेलसियस बना हुआ है। ऐसी कड़ाके की सर्दी में एटा जनपद का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। लोगों अपने अपने घरों मे कैद होकर बैठे हुए हैं।भयंकर कोहरे की वजह से रात मे उत्तर प्रदेश रोडवेज की बसें भी नहीं चल रहीं हैं जिससे गरीब और माध्यम वर्ग को यात्रा करने मे भारी दिक्कतों का सामना करना पड रहा है।

कुछ समाजसेवी संस्थाओं ने बांटे कंबल

कुछ समाजसेवी संस्थाओं ने सर्दी के इस मौसम में गरीब लोगों को गर्म कम्बल वितरित करने का काम किया है। लेकिन सरकारी स्तर पर अभी तक गर्म कम्बल वितरित न किए जाने से गरीब और निर्धन लोगों को शर्दियां काटना भी मुश्किल हो रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से सर्दी में गरीब लोगों को मिलने वाले गर्म कम्बल अभी तक नहीं मिल सके हैं, जिससे सर्दी में गरीब लोगों की मुश्किलें और भी बढ गयीं हैं।


Leave a Reply

Required fields are marked *