भीड़ ने लगाए जय श्रीराम के नारे तो ममता भड़कीं:PM के कार्यक्रम में मंच पर बैठने से किया इनकार

भीड़ ने लगाए जय श्रीराम के नारे तो ममता भड़कीं:PM के कार्यक्रम में मंच पर बैठने से किया इनकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल की पहली वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई। कार्यक्रम हावड़ा स्टेशन पर हो रहा था और PM अहमदाबाद से इसमें वर्चुअली जुड़े। बंगाल की CM ममता बनर्जी भी इसमें शामिल होने पहुंची। ममता के कार्यक्रम में पहुंचते ही हावड़ा स्टेशन पर जबरदस्त ड्रामा हो गया।

दरअसल, जब ममता मंच पर जा रही थीं, तब भीड़ से जय श्रीराम के नारे लगने लगे। हंगामे के दौरा ममता के साथ रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव समेत 4 केंद्रीय मंत्री भी इस दौरान मौजूद थे। इस पर ममता भड़क गईं और मंच पर बैठने से इनकार कर दिया।

इसके बाद रेल मंत्री और राज्यपाल सी वी आनंद बोस ने ममता को मनाने की कोशिश की, लेकिन वे नहीं मानीं। हालांकि बाद में ममता स्टेज के सामने दर्शक दीर्घा में कुर्सी लगाकर बैठ गईं। बाद में उन्होंने अपना संबोधन भी दिया।

रेल मंत्री बोले- कार्यकर्ता तो नारे लगाते ही हैं

मेट्रो रेल की सवारी के बाद रेल मंत्री वैष्णव ने तारातला में मीडिया के सवाल पर कहा कि मुख्यमंत्री को आदर और सम्मान के साथ आमंत्रित किया गया था। ऐसी कोई बात नहीं हुई के नाराज होने की बात हो। कार्यकर्ता तो नारे लगाते ही हैं।

विवाद के बावजूद ममता ने दिया संबोधन

कार्यक्रम के दौरान ममता बनर्जी ने कहा कि आज उनके लिए काफी खुशी का दिन है। जब वे रेल मंत्री थीं, तब उन्होंने तारातला जोका मेट्रो स्टेशन का उद्घाटन किया था। उस समय प्रतिभा पाटिल वहां आई थीं। उन्होंने कहा कि उन 5 परियोजनाओं में से 4 उनके रेल मंत्री होने के समय की थीं।

उन्होंने पीएम मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्हें खुशी है कि प्रधानमंत्री ने इसका उद्घाटन किया। उन्होंने आगे कहा कि अब उन्हें बेहाला में उनका ड्रीम प्रोजेक्ट जल्द पूरा होता हु आ नजर आ रहा है। ममता ने कहा कि जब वो रेलमंत्री थीं तो उन्होंने 50 विश्व स्तरीय स्टेशन के लिए एक पत्र प्रस्तुत किया था। इस लिस्ट में जलपाईगुड़ी का नाम भी शामिल था। ममता ने इस बात पर खुशी जताई की अब उनकी इच्छा पूरी हो सकेगी।

पीएम से कहा- आपकी मां, हमारी मां... थोड़ा आराम करिए

मां हीरा बा का अंतिम संस्कार करने के तुरंत बाद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए PM मोदी ने वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाई। कार्यक्रम में शामिल पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मोदी की मां के निधन पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि यह दिन आपके लिए तकलीफ भरा है। आपकी मां यानी हमारी भी मां। ईश्वर आपको शक्ति दें कि आप अपना काम जारी रख सकें। मेरा अनुरोध है कि आप कुछ समय आराम भी करें

ममता ने बंगाल के लोगों की तरफ से प्रधानमंत्री को शुक्रिया कहा

कार्यक्रम में शामिल हुईं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से कहा- माननीय प्रधानमंत्री जी, मैं आपकी आभारी हूं कि आपको यहां आना था, लेकिन अपनी माताजी के निधन के चलते आप नहीं आ पाए, फिर भी आप वर्चुअल तरीके से इस कार्यक्रम से जुड़े। पश्चिम बंगाल के सभी लोगों की तरफ से मैं आपको धन्यवाद देना चाहूंगी कि आपने वंदे भारत ट्रेन यहां लॉन्च की।

तीर्थ नगरी पुष्कर के जगतपिता ब्रह्मा मंदिर में ममता ने पूजा की। इसके बाद वह अजमेर के लिए रवाना हो गईं। पुष्कर से अजमेर जाते वक्त सरोवर के ब्रह्म घाट पर जय श्रीराम के नारे लगे। जिसके चलते अचानक पुलिस अलर्ट मोड में आ गई। पुलिस के आने से पहले ही नारे लगाने वाले लोग मौके से फरार हो गए।

23 जनवरी 2021 को नेताजी की 125वीं जयंती थी। PM मोदी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी एक साथ दिखे। जगह थी कोलकाता का विक्टोरिया मेमोरियल। लेकिन वहीं बवाल हो गया। मंच से भाषण के लिए ममता बनर्जी का नाम पुकारा गया। तभी भीड़ में से कुछ लोग जय श्री राम के नारे लगाने लगे।

Leave a Reply

Required fields are marked *