अब हेलिकॉप्टर से निहारिए सम के मखमली रेतीले धोरों को, पढ़ें किराया कितना लगेगा

अब हेलिकॉप्टर से निहारिए सम के मखमली रेतीले धोरों को, पढ़ें किराया कितना लगेगा

जैसलमेर. विश्व प्रसिद्ध गोल्डन सिटी जैसलमेर यहां आने वाले पर्यटकों को एक अनमोल तोहफा देने जा रहा है. यहां आने वाले देसी और विदेशी पर्यटक अब रेगिस्तान के जहाज ऊंट की सवारी करके ही नहीं बल्कि हेलिकॉप्टर से भी सम के मखमली धोरों को निहार सकेंगे. मंगलवार से इसकी शुरुआत की जा रही है. न्यू ईयर सिलेब्रेट करने के लिए जैसमलेर आने वाले पर्यटकों को यह सौगात राजस्थान पर्यटन विकास निगम के सहयोग से दी जा रही है. जैसलमेर में अब एडवेंचर का एक नया और अनूठा अनुभव पर्यटकों को मिलेगा.

राजस्थान पर्यटन विकास निगम की ओर से मरुधरा में पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से हेलीकॉप्टर जॉयराइड की शुरूआत की जा रही है. हेलिकॉप्टर जॉयराइड का शुभारंभ आज आरटीडीसी सम से विधिवत रूप से किया जाएगा. सीएम अशोक गहलोत और पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह वर्चुअल माध्यम से इसका शुभारंभ करेंगे. वहीं हेलीकॉप्टर जॉयराइड के शुभारंभ अवसर पर पर्यटन राज्यमंत्री मुरारीलाल मीणा, आरटीडीसी अध्यक्ष धर्मेंद्र राठौड़, अल्पसंख्यक मामलात मंत्री सालेह मोहम्मद एवं जैसलमेर विधायक रूपाराम धणदे इसके ट्रायल रन में शामिल होंगे. राज्य सरकार की ओर से इसके लिए एवन हेलीकॉप्टर से अनुबंध किया गया है.

8 मिनट आसमान की सैर कराई जाएगी

राजस्थान पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष धर्मेंद्र राठौड़ ने बताया कि राजस्थान में पर्यटन को बढ़ावा के उद्देश्य से आरटीडीसी के तत्वावधान में हेलिकॉप्टर जॉयराइड की पहल जैसलमेर से की जा रही है. इस नवाचार से पर्यटकों को जैसलमेर के नैसर्गिक सौंदर्य को आसमान से निहारने का मौका मिल सकेगा. वहीं स्थानीय स्तर पर रोजगार के भी अवसर बढ़ेंगे. हेलिकॉप्टर की जॉयराइड सम में उड़ान भरेगी. उसके बाद 8 मिनट आसमान की सैर के बाद इसे वापस उतारा जाएगा. जैसलमेर के पर्यटन के लिहाज से सरकार की ओर से यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है. इससे पर्यटकों को नया एडवेंचर का अनुभव हो पाएगा.

किराया 5 हजार रुपये रखा गया है

हेलिकॉपर कंपनी के सीईओ सोहन सिंह नाथावत ने बताया कि सम के धोरों को आसमान से निहारने के लिए सम स्थित आरटीडीसी पर ही इसकी बुकिंग होगी. फिलहाल ट्रायल के तौर पर इसका किराया 5 हजार रुपये रखा गया है. इसके बाद जीएसटी और अन्य टैक्स के साथ एक व्यक्ति की सैर के लिए 7 हजार रुपये का भुगतान करना होगा. हेलिकॉप्टर की कैपेसिटी 6 यात्रियों की रहेगी. इससे पर्यटन में इजाफा होने की संभावना जताई जा रही है. उम्मीद है कि जैसलमेर के सम में शुरू होने वाली इस हेलिकॉप्टर जॉयराइड से जैसलमेर के पर्यटन को पंख लगेंगे.

Leave a Reply

Required fields are marked *