UP: सीतापुर में शिक्षकों से भरी कार DCM में घुसी; बुलंदशहर में हाईवे पर टकराईं 18 से अधिक गाडि़यां, आगरा में स्कूल वैन-टैंकर में भिड़ंत, 6 बच्चे गंभीर

UP: सीतापुर में शिक्षकों से भरी कार DCM में घुसी; बुलंदशहर में हाईवे पर टकराईं 18 से अधिक गाडि़यां, आगरा में स्कूल वैन-टैंकर में भिड़ंत, 6 बच्चे गंभीर

यूपी में घने कोहरे का कहर लगातार दूसरे दिन भी रहा। ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे पर बस रेलिंग तोड़कर 10 फीट नीचे गिर गई। हादसे में एक की मौत हो गई। 15 यात्री घायल हैं। आगरा में सुबह टैंकर ने स्कूल वैन को टक्कर मार दी। हादसे में 6 बच्चे घायल हो गए। सभी की हालत गंभीर है। सीतापुर में शिक्षकों से भरी कार DCM में जा घुसी। कार चालक सहित 8 शिक्षकों को चोटें आयी हैं।

वहीं, लखनऊ में सुबह विजिबिलिटी 25 मीटर दर्ज की गई। कानपुर में भी हालात कुछ ऐसे ही रहे। कानपुर में कोहरे के कारण सोमवार को 4 फ्लाइट कैंसिल हुईं। लखनऊ में फ्लाइट को वाराणसी के लिए डायवर्ट करना पड़ा। चलिए, अब विस्तार से आपको शहरों में कोहरे से बिगड़ते हालात बताते हैं...

सीतापुर हादसे में 7 शिक्षक घायल, 2 की हालत गंभीर

सुबह घने कोहरे के चलते शिक्षकों से भरी कार आगे चल रही डीसीएम में जा घुसी। सड़क हादसे में कार के परखच्चे उड़ गए और कार सवार चालक सहित 8 शिक्षकों को चोटें आयी हैं। सभी शिक्षकों को इलाज के लिए सीएचसी में भर्ती कराया गया है। जहां चालक और शिक्षक की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने दोनों वाहनों को कब्जे में लेकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

बाराबंकी में आपस में टकराई अनुबंधित बस और ट्रक

बाराबंकी जिले के मोहम्मदपुर खाला क्षेत्र में घने कोहरे के चलते रामपुर मथुरा से बाराबंकी आ रही बस और एक ट्रक में आमने-सामने की भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी तेज थी कि दोनों वाहनों के परखच्चे उड़ गए। ट्रक ड्राइवर समेत बस में सवार छह यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को स्थानीय सीएचसी पर भर्ती कराया। जहां से डॉक्टरों ने तीन की हालत को गंभीर देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया है।

बुलंदशहर में कई गाड़ियां आपस में टकराईं

खुर्जा में राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुबह घने कोहरे के चले तीन दर्जन से ज्यादा वाहन आपस में टकरा गए। हादसे में एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को रेस्क्यू करते हुए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां से सभी घायलों को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। हादसे में कई गाड़ियां पूरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो गई हैं। पुलिस ने क्रेन की मदद से हाईवे पर बिखरे वाहनों के परखच्चों को हटवाया। 2 घंटे बाद यातायात सामान्य हो सका।

इटावा में ट्रक और दो डंपर आपस में टकराए

​​​​​​​​​​​​इटावा में घने कोहरे के कारण ब्रेजा कार को बचाने के चक्कर में एक ट्रक पुलिया से टकरा गया, तभी पीछे से आ रहे दो डंपर ने टक्कर मार दिया। हादसे में कोई भी हताहत नहीं हुआ। हालांकि ट्रक बुरी तरह छतिग्रस्त हो गया। जानकारी के अनुसार ऊसराहार थाना क्षेत्र के उसराहार भरथना मार्ग पर सामने से आ रही कार को बचाने के चक्कर में ट्रक अनियंत्रित होकर पुलिया से जा टकराया। तभी पीछे से आ रहे दो डंपर अनियंत्रित होकर ट्रक में पीछे से टक्कर मार दिया।

​​​​​​ग्रेटर नोएडा: एक्सप्रेस-वे पर रेलिंग तोड़कर बस गिरी, 1 की मौत

ग्रेटर नोएडा में एक्सप्रेस-वे पर झांसी से दिल्ली जा रही बस कोहरे के चलते रेलिंग तोड़कर 10 फीट नीचे गिर गई। हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई। जबकि 15 घायल हो गए। इसमें ड्राइवर की हालत नाजुक हैं। घायलों को पास के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पुलिस के मुताबिक बस में 60 यात्री सवार थे।

पुलिस ने बताया कि डबल डेकर प्राइवेट बस यमुना एक्सप्रेस-वे के रास्ते दनकौर कोतवाली क्षेत्र से होकर जा रही थी। गलगोटिया यूनिवर्सिटी के पास बस के आगे एक ट्रक चल रहा था। कोहरे के कारण बस ड्राइवर को कुछ नजर नहीं आया। अचानक ट्रक सामने दिखा तो ड्राइवर ने बस में ब्रेक लगा दिया। रफ्तार अधिक होने से बस ने टर्न ले लिया और रेलिंग तोड़ते हुए नीचे गिर गई

लखनऊ में मंगलवार की सुबह घना कोहरा रहा। शहर के कुछ इलाकों में विजिबिलिटी 25 मीटर तक दर्ज की गई है। यानी, 25 मीटर से आगे का कुछ भी नजर नहीं आ रहा था। मौसम विभाग ने अगले तीन दिन तक ऐसा ही मौसम रहने की संभावना व्यक्त की है।

मौसम विभाग के कार्यवाहक निदेशक मोहम्मद दानिश ने बताया कि अगले 3 दिनों तक घने कोहरे का यह रुख बरकरार रहेगा। मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार बीते साल 19 दिसंबर 2021 को तापमान अधिकतम 19.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था जो कि 4.4 डिग्री सामान्य से कम था।

कानपुर में 4 फ्लाइट रद्द, करीब 5 हजार टिकट कैंसिल

कानपुर में सोमवार को बेंगलुरू, मुंबई और दिल्ली से आने वाली चार फ्लाइटें को निरस्त कर दी गईं। मंगलवार को सुबह आने वाली श्रमशक्ति और स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस 6 घंटे की देरी से कानपुर पहुंची। इस दौरान दिल्ली, आगरा, मथुरा और मेरठ से आने वाली 47 बसें 4 घंटे देरी से सुबह के बजाय दिन में 10 बजे के बाद झकरकटी या फिर चुन्नीगंज डिपो पहुंचीं। ट्रेनों के लेट के चलते 4987 यात्रियों ने टिकट कैंसिल कर दिया। इस वजह से पूछताछ काउंटर पर भीड़ दिखाई दी।

वाराणसी में विजिबिलिटी 500 मीटर, 6 किमी प्रति घंटे की स्पीड से चल रही हवा

आगरा में टैंकर ने स्कूल वैन को मारी टक्कर, 6 बच्चे घायल

आगरा में मंगलवार को घना कोहरा होने के चलते टैंकर और स्कूली बच्चों से भरी ईको गाड़ी की टक्कर हो गई। हादसे में 6 बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। सभी घायलों को पास के सीएचसी पिनाहट में भर्ती करवाया गया है। वहीं, कोहरा होने के चलते ताजमहल पहुंचे पर्यटकों को भी परेशानी हुई। ताजमहल धुंध के चलते साफ दिखाई नहीं दिया। ऐसे में सेंट्रल टैंक से फोटो ग्राफी कराने वाले पर्यटक को निराशा हुई।

एसएन मेडिकल कॉलेज के बाल रोग विभाग में बच्चों की लाइन लगी है। डॉक्टर का कहना है कि बच्चों को ठंड से बचाएं। गर्म कपडे पहनाएं। हल्का गुनगुना पानी पिलाएं। मौसम विभाग अगले दो दिन भारी कोहरा रहने की संभावना जताई है

UP के 5 न्यूनतम तापमान वाले जिले

जिला न्यूनतम तापमान

अयोध्या 6.5 डिग्री सेल्सियस

मुजफ्फरनगर 7.8

मेरठ 7.0

कानपुर नगर 7.6

सुल्तानपुर 8.7

Leave a Reply

Required fields are marked *