New Delhi: Kharge के बयान पर संसद में बवाल, मोदी के मंत्रियों का चौतरफा वार, कांग्रेस अध्यक्ष का माफी से इनकार

New Delhi: Kharge के बयान पर संसद में बवाल, मोदी के मंत्रियों का चौतरफा वार, कांग्रेस अध्यक्ष का माफी से इनकार

अलवर में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कुछ ऐसा बयान दे दिया जिसके बाद से अब उनकी मुश्किलें लगातार बढ़ती हुई दिखाई दे रही हैं। सोमवार तक चीन के मुद्दे पर हमलावर रहने वाली कांग्रेस अब बैकफुट पर आते दिखाई दे रही है। मोदी सरकार के तमाम मंत्री मल्लिकार्जुन खड़गे के बयान को लेकर जबरदस्त तरीके से हमलावर हैं। इतना ही नहीं, मल्लिकार्जुन खड़गे के बयान पर मोदी के मंत्रियों की ओर से माफी की मांग भी की जा रही है। भले ही मल्लिकार्जुन खड़गे ने अलवर की रैली में अपनी बात रखी। लेकिन कहीं ना कहीं उसकी गूंज आज राज्यसभा में भी सुनाई दी। भाजपा के नेता लगातार मल्लिकार्जुन खड़गे से माफी की मांग करते रहे। हालांकि मल्लिकार्जुन खड़गे ने साफ तौर पर कहा है कि मैं माफी नहीं मांगूंगा। 

मल्लिकार्जुन खड़गे ने क्या कहा था

अलवर में एक सभा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा था कि देश की खातिर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी ने कुर्बानी दे दी और पूछा हमारी पार्टी के नेताओं ने जान दी है, तुम (भाजपा) ने क्या किया? आपके घर देश के लिये कोई कुत्ता भी मरा है?.. क्या किसी ने कुर्बानी दी है? नहीं। लेकिन फिर भी वे देशभक्त और हम कुछ भी बोलेंगे तो देशद्रोही। उन्होंने कहा कि यह लोकतंत्र को इस तरीके से खत्म कर रहे हैं.. कभी कातिल बदलते हैं... कभी खंजर बदलता है.. ये लोग लोकतंत्र को, संविधान को खत्म करने की कोशिश कर रहे हैं।

मोदी के मंत्रियों का पलटवार

मल्लिकार्जुन खड़गे के इसी बयान पर अब मोदी सरकार में मंत्री उनसे माफी की मांग कर रहे हैं। राज्यसभा में हंगामा भी हुआ। राज्यसभा में सदन के नेता पीयूष गोयल ने कहा कि कल अलवर में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने अभद्र भाषण दिया था। जिस भाषा का प्रयोग किया गया है वह दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने जिस तरह से अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया, निराधार बातें कही और देश के सामने झूठ पेश करने की कोशिश की, मैं उसकी निंदा करता हूं। मैं उनसे माफी की मांग करता हूं। गोयल ने साफ तौर पर कहा कि उन्हें (मल्लिकार्जुन खड़गे) भाजपा, संसद और इस देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए जिन्होंने पूर्ण बहुमत से भाजपा की सरकार बनाई। उन्होंने (खड़गे) हमें उनकी मानसिकता और ईर्ष्या की झलक दी। 

केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा कि एक राजनीतिक दल के अध्यक्ष इस तरह बोलेंगे जिसको सुनकर हम सबके बहुत खराब लगता है, इसकी निंदा करना भी मुझे उचित नहीं लगता। उन्होंने कहा कि हम दुश्मन नहीं प्रतिद्वंदी हैं। मल्लिकार्जुन खड़गे ने जो गलत शब्दों का इस्तेमाल किया है इसी वजह से राजनीतिक स्तर गिरता है। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा कल राजस्थान में दिए गए बयान की हम कड़ी निंदा करते हैं। यह एक इटालियन कांग्रेस है जो आज चल रही है। कहा जा रहा है कि वे रबर स्टांप अध्यक्ष हैं। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि इनकी मानसिकता ही ऐसी है। इस तरह की बातें उन्होंने वीर सावरकर और स्मृति ईरानी के लिए भी कही हैं। मैंने सोचा था कि मल्लिकार्जुन खड़गे में कुछ कॉमन सेंस है लेकिन आज साबित हो गया कि उनके पास यह नहीं है। 

खड़गे का माफी से इनकार

माफी को लेकर खड़गे ने कहा कि राजस्थान के अलवर में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान मैं सदन के बाहर था। मैंने जो कहा वह राजनीतिक रूप से सदन के बाहर था, भीतर नहीं। उस पर यहां चर्चा करने की जरूरत नहीं है। दूसरे, मैं अभी भी कह सकता हूं कि स्वतंत्रता संग्राम में उनकी कोई भूमिका नहीं थी। एक बार फिर से उन्होंने कहा कि वे माफी मांगे वाले लोग हैंआपने क्या भूमिका निभाई?

Leave a Reply

Required fields are marked *