भारत की मेजबानी में होने वाले जी-20 शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे पुतिन

भारत की मेजबानी में होने वाले जी-20 शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे पुतिन

नई दिल्ली: भारत में अगले साल होने जा रहे G20 समिट में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के शामिल होने की काफी संभावना है. रूसी न्यूज़ एजेंसी तास की एक रिपोर्ट के अनुसार इस साल के G20 समिट से नदारद रहने वाले पुतिन अपने मित्र देश भारत द्वारा सितंबर 2023 में आयोजित किये जा रहे शिखर सम्मलेन में हिस्सा ले सकते हैं. जी20 (शेरपा) स्वेतलाना लुकाश ने शुक्रवार को बताया कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के नई दिल्ली जी20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने की पूरी संभावना है.

लुकाश ने कहा कि निश्चित रूप से पुतिन G20 शिखर सम्मेलन में जाएंगे. लेकिन यह, किसी भी मामले में, उन्हें तय करना है. उन्होंने आगे कहा कि अब, जब अगला शिखर सम्मेलन एक वर्ष आगे है, तो इसमें वह कुछ विशेष नहीं कह सकते. लेकिन संभावनाएं हैं कि रूसी राष्ट्रपति सम्मलेन में शामिल होने पहुंचें. आपको बता दें कि 1 दिसंबर को इंडोनेशिया से G20 की अध्यक्षता लेने वाला भारत 2023 में 9-10 सितंबर को यह शिखर सम्मलेन आयोजित करने जा रहा है, जिसमें दुनियाभर के आर्थिक रूप से अहम माने जाने वाले 20 देशों के प्रमुख हिस्सा लेंगे.

कुल मिलाकर, भारत अपनी G20 अध्यक्षता के दौरान देश भर में लगभग 200 कार्यक्रम आयोजित करने जा रहा है. वहीं रूसी नेता के प्रतिनिधि ने बताया कि रूस सभी 200 कार्यक्रमों में शामिल होने जा रहा है. उन्होंने कहा कि रूस इन समारोह को अपनी एजेंडा और विचार व्यक्त करने के लिए एक महत्वपूर्ण जगह मानता है.

G20 के आधे सदस्यों ने किया रूस को अलग थलग करने का विरोध

मास्को के G20 शेरपा स्वेतलाना लुकाश ने कहा कि G20 के आधे सदस्य रूस का समर्थन करते हैं और मानते हैं कि देश को अलग-थलग करना गलत है. हालांकि लुकाश के अनुसार, पश्चिमी देशों ने G20 में भी रूस विरोधी बयानबाजी को बढ़ावा देना जारी रखा है. उन्होंने बताया कि पश्चिमी देश वैश्विक अर्थव्यवस्था में संकट के लिए हमारे देश को दोष देते रहते हैं, चाहे वह खाद्य या ऊर्जा क्षेत्र में हो.

Leave a Reply

Required fields are marked *