नए साल पर लखनऊ को 5 जी का तोफा

नए साल पर लखनऊ को 5 जी का तोफा

लखनऊ के लोगों को नए साल पर 5 जी का तोफा मिलने वाला है। एयरटेल अपनी 5 जी सुविधा शुरू कर देगा। इसमें आम लोगों को लाभ होने के साथ कृषि को फायदा होने वाला है। दूरसंचार विभाग ने 5जी एप्लीकेशन और समाधानों पर जोर देते हुए 14 केंद्रीय मंत्रालयों एवं विभागों के साथ मिलकर एक अंतर-मंत्रालयी समिति का गठन कर चुका है। दरअसल, इसमें कृषि मंत्रालय भी शामिल है। इसमें यह भी देखा जा रहा है कि 5 जी सुविधा कैसे कृषि सुविधाओं को बेहतर कर सकता है।

एयरटेल यूपी के सीओ सोवन मुखर्जी ने बताया कि एयरटेल ने कई शक्तिशाली उपयोग के मामलों के साथ 5G की शक्ति प्रदर्शन करने जा रहा है। मौजूदा समय में बनारस में यह सुविधा चल रही है। लखनऊ प्रदेश का दूसरा शहर बनने जा रहा है।

उनका दावा है कि यह हमारे जीवन जीने और व्यापार करने के तरीके को बदल देगा। एयरटेल 5 जी प्लस कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा, विनिर्माण, मोबिलिटी और लोजिस्टिक्स में क्रांतिकारी बदलाव लाने जा रहा है।

टेक्नोलॉजी से कारोबार बढ़ेगा

उत्तर प्रदेश में नील की खेती को दोबारा शुरू करने वाली एमएमए हर्बल के कृषि वैज्ञानिक देवव्रत सिंह का कहना है कि तकनीक का बेहतर होना हमेशा लाभकारी होता है। उनके ही सेक्टर में जैसे ही काम बढ़ेगा टेक्नोलॉजी की आवश्यकता होगी। इसको अब 5 जी से पूरा किया जा सकता है। 5 जी के आने से निकट भविष्य में सिंचाई, मृदा स्वास्थ्य, कीट नियंत्रण आदि के डेटा से ड्रोन का संयोजन होगा, जिससे फसल की बुवाई के पहले और कटाई के बाद तक प्रभावी लाभ मिलेगा।

देवव्रत सिंह के मुताबिक, किसान पहले से एप्स के जरिये अपने मोबाइल पर कृषि संबंधी जानकारी व सलाह प्राप्त कर रहे हैं। 5 जी कनेक्टिविटी के जरिए, इस सलाह का दायरा अब सबके लिए कॉमन न होकर किसानों के लिए केस टू केस बेसिस पर और सटीक होगा। 5 जी के चलते अल्ट्राफ़ास्ट कनेक्टिविटी एवं कंप्यूटिंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) का कॉम्बिनेशन स्मार्ट एग्रीकल्चर को बहुत जल्दी हकीकत में बदल देगा।

Leave a Reply

Required fields are marked *