Lalu Yadav को किडनी डोनेट करने के बाद आया रोहिणी आचार्य का पहला पोस्ट

Lalu Yadav को किडनी डोनेट करने के बाद आया रोहिणी आचार्य का पहला पोस्ट

राजद सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव का किडनी ट्रांसप्लांट हुआ है। उनका किडनी ट्रांसप्लांट सिंगापुर में हुआ था। लालू यादव को उनकी बेटी रोहिणी आचार्य ने अपना किडनी डोनेट किया था। इसके बाद रोहिणी आचार्य के हर तरफ खूब तारीफ हो रही थी। लोग रोहिणी आचार्य की मिसाल दे रहे थे। सफल ऑपरेशन होने के बाद खुद लालू यादव के बेटे और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने इन दोनों के सलामती की जानकारी दी थी। अब रोहिणी आचार्य धीरे-धीरे ठीक हो रही हैं। इसके बाद उनका एक टि्वटर पोस्ट भी सामने आया है जिसमें वह लोगों का धन्यवाद करती हुई दिखाई दे रही है। उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि उनके पास शब्द नहीं है कि वह दुआ करने वालों का धन्यवाद कह सकें। 

अपने ट्वीट में रोहिणी आचार्य ने लिखा कि मैं अभी अच्छा महसूस कर रही हूँ। पापा भी ठीक हैं आप सबकी दुआओं के लिए शब्द नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आप सबकी प्रार्थना काम आयी है। दिल की गहराइयों में आप सबके प्रति ढ़ेर सारा प्यार और सम्मान है। आप सबकी दुआओं ने बहुत ताकत दी है। मेरे पास आप सबको धन्यवाद कहने के लिए शब्द नहीं है। इसके आगे उन्होंने लिखा कि मेरे और पापा के लिए इतना प्रार्थना और दुआ करने के लिए आप सबको दिल से धन्यवाद कहना चाहती हूँ। प्रणाम। सोशल मीडिया पर लगातार लोग रोहिणी आचार्य का मिसाल दे रहे हैं और कह रहे हैं कि बेटी हो तो रोहिणी आचार्य जैसी। लालू प्रसाद यादव ठीक हो रहे हैं और उनके लिए खूब दुआएं भी की गई थी जिसका परिवार लगातार धन्यवाद कर रहा है। 

रोहिणी आचार्य की तारीफ करते हुए लालू यादव के धुर विरोधी कहे जाने वाले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने लिखा था कि बेटी हो तो रोहिणी आचार्य जैसी। गर्व है आप पर... आप उदाहरण होंगी आने वाली पीढ़ियों के लिए। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तेजस्वी यादव को फोन कर तेजस्वी यादव का हालचाल जाना था। फिलहाल लालू यादव स्वस्थ हो रहे हैं। उनके परिवार की ओर से लगातार दावा किया जा रहा है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी तेजस्वी यादव से बातचीत की थी और लालू यादव का हालचाल जाना था। तेजस्वी ने ट्वीट किया था कि ऑपरेशन के बाद मेरी प्यारी बहन का आत्मविश्वास अलौकिक, अपूर्व और अद्भुत है। मेरी प्यारी बहन रोहिणी आचार्य ने अटूट प्रेम, असीम त्याग, अदम्य साहस, अद्वितीय समर्पण और रिसते रिश्तों के वर्तमान दौर में अकल्पनीय पारिवारिक मूल्यों की जो अनूठी मिसाल कायम की है वह अवर्णनीय और अविस्मरणीय है।

Leave a Reply

Required fields are marked *