रूस के भीतर कई एयरबेस पर हमलों से खलबली, यूक्रेन की मदद करने से US ने किया साफ इनकार

रूस के भीतर कई एयरबेस पर हमलों से खलबली, यूक्रेन की मदद करने से US ने किया साफ इनकार

वाशिंगटन: रूस के भीतर घुसकर यूक्रेन को हमला करने के लिए अमेरिका किसी तरह की मदद या बढ़ावा नहीं दे रहा है. अमेरिका के विदेश विभाग ने मंगलवार को कहा कि यूक्रेन के अपनी सीमाओं से परे जाकर हमला करने के लिए जरूरी हथियार या साजो-सामान अमेरिका मुहैया नहीं करा रहा है. बहरहाल यूक्रेन ने रूस के सैकड़ों किलोमीटर अंदर 3 एयरबेस पर हवाई हमलों के साथ रूसी हवाई क्षेत्र में सैकड़ों किलोमीटर तक घुसकर मार करने की एक नई क्षमता को साफ तौर से दिखाया है.

अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने संवाददाताओं से कहा कि हम यूक्रेन को उसकी सीमाओं से आगे हमला करने के लिए समर्थ नहीं बना रहे हैं. हम यूक्रेन को अपनी सीमाओं से परे जाकर हमला करने के लिए प्रोत्साहित भी नहीं कर रहे हैं. नेड प्राइस ने ये भी कहा कि इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि ये हमले यूक्रेन ने ही किए थे. प्राइस ने कहा कि अमेरिका ने यूक्रेन को वे हथियार मुहैया नहीं कराए हैं, जिनका इस्तेमाल रूस के भीतर हमले के लिए किया जा रहा है. उधर मॉस्को ने कहा कि सोमवार को उसके 2 एयरबेस पर हुए हमलों में उसके तीन सैनिकों की मौत हो गई और चार घायल हो गए. इसके साथ ही दो युद्धक विमानों को भी नुकसान पहुंचा. जबकि मंगलवार को कुर्स्क में एक तीसरे रूसी एयरबेस पर एक और ड्रोन हमले में तेल डिपो में आग लग गई.

ये एयरबेस यूक्रेन के करीब है. कीव में सरकार ने सीधे तौर पर इन हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली, लेकिन फिर भी इनकी सफलता का जश्न मनाया गया. मंगलवार को यूक्रेन की सीमा से लगभग 90 किमी (60 मील) उत्तर में रूसी शहर कुर्स्क में अधिकारियों ने एक एयरबेस के ऊपर काले धुएं की तस्वीरें जारी कीं. बताया गया कि ड्रोन हमले से एक तेल भंडारण टैंक में आग लग गई लेकिन कोई हताहत नहीं हुआ. गौरतलब है कि एक दिन पहले यूक्रेन से सैकड़ों किलोमीटर की दूरी पर एंगेल्स एयर बेस पर और रूस के रणनीतिक बमवर्षक बेड़े के ठिकाने रियाजान में ड्रोन हमले हुए थे. रियाजान तो मास्को से केवल कुछ ही घंटों की दूरी पर है.

Leave a Reply

Required fields are marked *