New Delhi: साइक्लोन के असर से इन राज्यों में होगी भारी बारिश, मौसम विभाग का अलर्ट जारी

New Delhi: साइक्लोन के असर से इन राज्यों में होगी भारी बारिश, मौसम विभाग का अलर्ट जारी

नई दिल्ली: दक्षिण अंडमान सागर और आस-पास के भूमध्यरेखीय हिंद महासागर-मलक्का जलडमरूमध्य पर मध्य-क्षोभमंडल स्तर तक एक चक्रवाती परिसंचरण cyclonic circulation फैला हुआ है. इसके असर से 5 दिसंबर तक दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी और इससे सटे दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग Indian Meteorological Department-IMD ने कहा कि इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और 7 दिसंबर की सुबह तक बंगाल की खाड़ी के दक्षिणपूर्व पर एक दबाव में केंद्रित हो जाने की संभावना है. इसके बाद इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ना जारी रहने और 8 दिसंबर की सुबह तक उत्तर तमिलनाडु-पुडुचेरी और आसपास के दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटों के पास बंगाल की दक्षिण-पश्चिम खाड़ी तक पहुंचने की संभावना है.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग Indian Meteorological Department-IMD के मुताबिक इसके कारण 4-6 दिसंबर के दौरान अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में व्यापक रूप से हल्की/मध्यम वर्षा के साथ कुछ स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है. 7 दिसंबर मध्यरात्रि से उत्तर तटीय तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल और दक्षिण तट आंध्र प्रदेश में बारिश शुरू होने की संभावना है. 8 दिसंबर को उत्तरी तमिलनाडु और पुडुचेरी में भारी से बहुत भारी वर्षा और दक्षिण आंध्र प्रदेश में कुछ जगहों पर भारी वर्षा के साथ अधिकांश स्थानों पर बारिश के बढ़ने की संभावना है. इसके बारे में मौसम विभाग ने एक अलर्ट भी जारी किया है.

जबकि मौसम विभाग ने कहा कि 5 दिसंबर को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और अंडमान सागर में तूफानी मौसम (40-45 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार) की संभावना है. 5 और 6 दिसंबर को दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी में और 6-7 दिसंबर को दक्षिण पश्चिम और उससे सटे दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर तेज हवाएं (45-55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से) चलने की संभावना है. 7 और 8 दिसंबर को दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी और आसपास के श्रीलंका तट पर तेज हवाएं (50-60 किमी प्रति घंटे से 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से) चलने की संभावना है. तमिलनाडु, पुडुचेरी, दक्षिण आंध्र प्रदेश के तट और मन्नार की खाड़ी में 8 दिसंबर की सुबह से तेज हवा (40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से) शुरू होने की संभावना है. जो अगले 12 घंटों के दौरान शाम तक 70 किमी प्रति घंटे तक पहुंच सकती है.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग Indian Meteorological Department-IMD के मुताबिक अगले 24 घंटों के दौरान देश के उत्तरी और पश्चिमी हिस्सों में न्यूनतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं होने की संभावना है. अगले 2-3 दिनों के दौरान देश के मध्य और आसपास के पूर्वी हिस्सों में न्यूनतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट होने का अनुमान है. अगले 4-5 दिनों के दौरान देश के बाकी हिस्सों में न्यूनतम तापमान में कोई खास बदलाव नहीं होने की संभावना है. जबकि अगले 2-3 दिनों में सुबह के समय हिमाचल प्रदेश और पंजाब के अलग-अलग इलाकों में घना कोहरा छाए रहने की संभावना है.

Leave a Reply

Required fields are marked *