यूज़र्स कभी न करें ये गलतियां, भूलकर भी कर दी तो बैंक खाता हो जाएगा साफ

यूज़र्स कभी न करें ये गलतियां, भूलकर भी कर दी तो बैंक खाता हो जाएगा साफ

फेसबुक:  दुनिया के सबसे लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स में से एक है. यह एक ऐसा प्लेटफॉर्म है, जिसके जरिए आप किसी के साथ भी जुड़ सकते हैं और कोई भी आपसे कनेक्ट रह सकता है. फेसबुक पर आपका जानकार भी आपका दोस्‍त बन सकता है और कोई अनजान भी. अपने विचार व्‍यक्‍त करने और दोस्‍तों का दायरा बढ़ाने के लिए फेसबुक कमाल की चीज है. आजकल फेसबुक के जरिए कई तरह से ऑनलाइन फ्रॉड्स होने लगे हैं. कई फेसबुक यूजर्स को मोटी चपत भी लग चुकी है. फेसबुक यूज करते समय अब ज्‍यादा सावधान रहने की जरूरत है. कुछ ऐसी बातें हैं, जिनका विशेष रूप से ध्‍यान रखना चाहिए. आइए, इनके बारे में जानते हैं.

फेसबुक के जरिए अगर आपको कोई भी लिंक मिलता है, तो उस लिंक पर क्लिक ने करें. आमतौर पर इन लिंक्‍स को लुभावने ऑफर्स के साथ भेजा जाता है. किसी लिंक के जरिए आपके अकाउंट को हैक भी किया जा सकता है और फिर आपके प्रोफाइल में मौजूद निजी जानकारियों का गलत इस्तेमाल करके बैंक खाते से पैसे तक निकाले जा सकते हैं.

फेसबुक पर फ्री चीज़ें और बेहद सस्ते रेट पर सामान देने का दावा करने वाले विज्ञापनों से बचें और इनके झांसे में कभी न आएं. ऐसे बहुत से मामले सामने आए हैं, जिनमें यूजर्स के विज्ञापनों के झांसे में आकर ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करते ही उनके बैंक अकाउंट से सारे पैसे निकाल लिए गए.

फेसबुक पर अपने फ्रेंड लिस्ट में उसी इंसान को एड करें, जिसे आप जानते हों. साथ ही फ्रेंड रिक्‍वेस्‍ट भेजते या स्‍वीकार करते वक्‍त यह भी तसल्‍ली कर लें कि वह फेक प्रोफाइल नहीं है. ऐसा इसलिए क्योंकि किसी भी अनजान को एड करने से वो आपके अकाउंट की इंफोर्मेशन की मदद से फ्रॉड भी कर सकता है.

अगर आपके किसी फ्रेंड के नाम से दोबारा फ्रेंड रिक्वेस्ट आ रही है तो उसे एक्सेप्ट न करें, क्योंकि डुप्लीकेट फेसबुक आईडी बनाकर साइबर क्रिमिनल लोगों को धड़ल्ले से ठग रहे हैं.

फेसबुक के जरिए अगर आपका जानकार बैंक अकाउंट की डिटेल या पैसे मांग रहा है तो इंकार कर दें. ऐसा हो सकता है कि आपके दोस्त का फेसबुक अकाउंट किसी ने हैक कर लिया हो और फिर उसके नाम पर आपसे पैसे मांगे जा रहे हैं. या फिर कोई लिंक भेजकर आपके बैंक अकाउंट में सेंध लगाने की योजना बनाई जा रही हो.

Leave a Reply

Required fields are marked *