सरदारशहर: कांग्रेस से ​​​​​​​भंवरलाल शर्मा के बेटे को सिम्पैथी टिकट, BJP के पिंचा ने भरा नामांकन

सरदारशहर: कांग्रेस से ​​​​​​​भंवरलाल शर्मा के बेटे को सिम्पैथी टिकट, BJP के पिंचा ने भरा नामांकन

कांग्रेस पार्टी ने सरदारशहर विधानसभा उपचुनाव के लिए स्वर्गीय भंवरलाल शर्मा के बेटे अनिल शर्मा को टिकट दे दिया है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने अनिल शर्मा का टिकट अप्रूव किया है। एआईसीसी के जनरल सेक्रेट्री इंचार्ज मुकुल वासनिक ने प्रेस रिलीज निकालकर इसकी सार्वजनिक घोषणा की है। अब कांग्रेस के अनिल शर्मा का मुकाबला बीजेपी उम्मीदवार अशोक कुमार पिंचा से होगा।

अनिल शर्मा कल नामांकन भरने की आखिरी तारीख 17 नवंबर को नॉमिनेशन भरेंगे। शर्मा को नामांकन दाखिल करवाने CM अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा समेत कई कैबिनेट मंत्रियों और सीनियर कांग्रेस नेताओं का सरदारशहर जाने का प्रोग्राम है।

पिता भंवरलाल शर्मा के निधन से खाली हुई है सीट

सरदारशहर की सीट कद्दावर कांग्रेस नेता और 7 बार के विधायक रहे पंडित स्वर्गीय भंवरलाल शर्मा के निधन से खाली हुई है। अनिल शर्मा राजस्थान आर्थिक पिछड़ा वर्ग आयोग EWS कमीशन के चेयरमैन हैं। उन्हें गहलोत सरकार में राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त हैं।

सहानुभूति लहर का फायदा लेने की कोशिश

यह पहले से तय माना जा रहा था कि अनिल शर्मा को ही कांग्रेस टिकट देगी। क्योंकि सहानुभूति की लहर उनके साथ है। पिछले उपचुनावों में भी सहानुभूति फैक्टर चला है। इसलिए नया प्रयोग करने से कांग्रेस पूरी तरह बची है।

बीजेपी उम्मीदवार अशोक कुमार पिंचा ने भरा नामांकन

अशोक कुमार पिंचा ने आज नामांकन दाखिल कर दिया है। चूरू के सरदारशहर में ताल मैदान से गांधी चौक तक नामांकन भरने से पहले रैली निकाली गई। केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल, सीकर सांसद मंहत सुमेधानंद सरस्वती, उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र सिंह राठौड़, पूर्व सांसद राम सिंह कस्वां, भाजपा के जिलाध्यक्ष धर्मवीर पुजारी, जिले के प्रभारी राम गोपाल सुथार, पूर्व जिला प्रमुख हरलाल सारण, रतनगढ़ विधायक अभिनेष महर्षि, प्रधान प्रतिनिधि मधुसूदन राजपुरोहित, पूर्व प्रधान सत्यनारायण सारण समेत बीजेपी पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं के साथ उपखंड कार्यालय में पिंचा ने सरदारशहर उपचुनाव 2022 के भाजपा प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन पत्र उपखंड अधिकारी के समक्ष दाखिल किया। नामांकन दाखिल करने के बाद जनसभा रखी गई। जिसमें प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया भी शामिल हुए।

हनुमान बेनीवाल की RLP ने नहीं खोले पत्ते

सरदारशहर के विधानसभा उपचुनाव में RLP भी जाट कैंडिडेट को खड़ा कर सकती है। लेकिन सांसद हनुमान बेनीवाल ने अब तक पत्ते नहीं खोले हैं। सूत्र बताते हैं कि सांसद हनुमान बेनीवाल ने बीजेपी के कई ऐसे टिकट दावेदारों से बातचीत की है। जो जाट समाज से हैं। लेकिन ज्यादातर बीजेपी नेताओं ने पार्टी से बगावत कर चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। जाट समाज से कैंडिडेट को टिकट नहीं दिए जाने पर RLP बीजेपी से समाज की नाराजगी का फायदा चुनाव में उठाना चाहती है। ताकि चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला पैदा हो सके। सर्वाधिक 65 हजार जाट वोटर सरदारशहर में बताए जाते हैं।

सरदारशहर विधानसभा उपचुनाव कार्यक्रम

- उपचुनाव के लिए मतदान 5 दिसंबर को होगा।

- नामांकन भरने की अंतिम तिथि 17 नवंबर।

-नामांकन पत्रों की जांच- 18 नवंबर ।

-नाम वापसी की अंतिम तिथि-21 नवंबर।

-मतदान की तारीख- 5 दिसम्बर।

-वोटों की काउंटिंग की तारीख- 8 दिसम्बर।

सरदारशहर विधानसभा सीट के जातीय समीकरण अनुमानित

जाति

कितने वोटर हैं

कुल वोटर

289500

ग्रामीण

219500

शहरी

67000

जाट

65000

हरिजन

55000

ब्राह्मण

45000

मुसलमान

23000

राजपूत

20000

माली

10000

कुम्हार

8000

स्वामी

8500

जैन

4000

अग्रवाल

4000

सोनी

8000

सुथार

7000

सिद्ध

7000

बाकी जातियां

19500

Leave a Reply

Required fields are marked *