Shraddha Murder Case : लाश के 13 टुकड़े बरामद, अन्य की तलाश जारी

Shraddha Murder Case : लाश के 13 टुकड़े बरामद, अन्य की तलाश जारी

दिल्ली: श्रद्धा वॉल्कर की हत्या के बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है। इस हत्याकांड ने लोगों के होश उड़ा दिए है, जिसके बाद पुलिस इसे सुलझाने में जुटी हुई है। आरोपी आफताब ने जहां श्रद्धा के शव के टुकड़ों को ठिकाने लगाने के लिए अलग अलग जगहों पर फेंका था। पुलिस ने कई जगहों से श्रद्धा के शव के कुल 13 टुकड़ों को बरामद कर लिया है। 

जानकारी के मुताबिक आफताब की निशानदेही पर पुलिस उसे लेकर उन जगहों पर पहुंची जहां उसने श्रद्धा के शव के टुकड़ों को फेंका था। पुलिस को श्रद्धा के शव के टुकड़े मिलना सबसे बड़ा सबूत माना जा रहा है, जो इस हत्याकांड में आरोपी आफताब को सजा दिलाने में सबसे अहम साबित होगा। पुलिस को छानबीन के दौरान धीरे धीरे शरीर के ये हिस्से मिल रहे है। बता दें कि आफताब ने श्रद्धा के कुल 35 टुकड़े किए थे, जिसे आफताब कबूल भी कर चुका है।

दिल्ली पुलिस कराएगी डीएनए सैंपलिंग

जांच में दिल्ली पुलिस ने बताया है कि श्रद्धा के शरीर के जो टुकड़े उन्हें महरौली पार्क और अन्य जगहों से मिले है उनकी डीएनए जांच करवाई जाएगी। डीएनए जांच से ये साफ होगा कि जो भी टुकड़े मिले हैं वो श्रद्धा के ही है। पुलिस सभी टुकड़ों का डीएनए कराएगी। इस टेस्ट से पता चलेगा कि जो टुकड़े मिले हैं वो श्रद्धा के ही हैं या किसी अन्य जानवर के है।

पुलिस के सामने हैं कई चुनौतियां

दिल्ली पुलिस ने आरोपी आफताब को गिरफ्तार तो कर लिया है, मगर संभावना है कि अदालत में पेशी के दौरान आफताब अपना कबूलनामे से मुकर जाए। ऐसे में दिल्ली पुलिस लगातार आफताब के खिलाफ सबूत जुटाने में जुटी हुई है ताकि उसके खिलाफ मजबूत केस बन सके। पुलिस को सबूत के तौर पर अभी दिल्ली में कुछ हिस्सों से कुछ टुकड़ों और हड्डियों को बरामद किया है। हालांकि अभी ये साबित नहीं हुआ है कि ये टुकड़े श्रद्धा के हैं या किसी अन्य के। दरअसल आरोपी आफताब ने छह महीने पहले हत्या को अंजाम दिया था, जिसके बाद छह महीनों तक उसे हत्या के सबूतों को खत्म करने का समय मिला था। लाश को काटने के दौरान फैले खून के निशान को कई बार आफताब मजबूत केमिकल की मदद से साफ कर चुका है।

फ्रीज को भी किया साफ

सिर्फ फर्श ही नहीं बल्कि आफताब ने उस फ्रीज को भी केमिकल से साफ किया था जिसमें उसने श्रद्धा की लाश के टुकड़ों को रखा था। आफताब ने इसकी पूरी तैयारी की थी कि श्रद्धा के खून के इल्जाम वो लगातार बच सके। पुलिस ने आफताब से पूछताछ में पता किया है कि वो किन रास्तों से शव को ठिकाने लगाने जाता था। पुलिस इन रास्तों पर उपलब्ध सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी खंगाल रही है। हालांकि पुलिस को सीसीटीवी फुटेज के संबंध में कोई ठोस सबूत नहीं मिले है। 

Leave a Reply

Required fields are marked *