पाकिस्तान और अफगानी सुरक्षाबलों में हिंसक झड़प, पाक सेना को बड़ा नुकसान, बॉर्डर सील

पाकिस्तान और अफगानी सुरक्षाबलों में हिंसक झड़प, पाक सेना को बड़ा नुकसान, बॉर्डर सील

इस्लामाबाद: एक स्थानीय पाकिस्तानी अधिकारी ने सोमवार को कहा कि अफगानिस्तान और पाकिस्तान के बीच एक प्रमुख सीमा मार्ग दोनों पक्षों के सुरक्षा बलों के बीच झड़प के बाद व्यापार और पारगमन के लिए बंद हो गया है. न्यूज़ एजेंसी रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार स्पिन बोल्डक के अफगान जिले की सीमा से लगे चाहमन शहर के उपायुक्त अब्दुल हमीद ज़हरी ने बताया कि एक दिन पहले दोनों ओर से सुरक्षा बलों के बीच लंबी गोलीबारी के बाद बंद हुआ. ज़ेहरी ने आगे कहा कि दोनों ओर से देर रात तक गोलीबारी जारी रही. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच व्यापार और सीमा क्रॉसिंग को चाहमान में निलंबित कर दिया गया था.

दोनों सेनाओं में झड़प

तालिबान प्रशासन के आंतरिक मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि दोनों पक्षों के सीमा बलों के बीच झड़प हुई थी. उन्होंने कहा कि यह एक गलतफहमी के कारण था और घटना की जांच की जा रही है. वहीं पाकिस्तान की सेना के मीडिया विंग के एक प्रवक्ता ने कहा कि वे स्थिति को देख रहे हैं कि घटना का क्या कारण था.

अफगानी ने पाक सुरक्षा बल के जवान को मारी गोली

जेहरी ने कहा कि संघर्ष तब शुरू हुआ जब सीमा पार से अफगानिस्तान की ओर से आ रहे एक व्यक्ति ने पाकिस्तानी सुरक्षा बल के एक सदस्य को गोली मार दी, जिसमें वह मारा गया और अन्य घायल हो गए. दोनों पक्षों के हताहतों की कुल संख्या तत्काल स्पष्ट नहीं थी. आशंका है कि इस झड़प में पाकिस्तान सेना के कई सैनिक मारे गए हैं. झड़प के बाद स्थानीय लोगों और अधिकारियों ने कहा कि माल से लदे सैकड़ों ट्रक दोनों तरफ इंतजार कर रहे थे. रिपोर्ट के मुताबिक 2021 में जब से तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा किया है, तो तालिबान लड़ाकों और पाकिस्तान के सुरक्षा बलों के बीच कई बार झड़प हुई है, जबकि अफगानी आतंकवादियों ने पाकिस्तानी बलों पर कई बार हमला किया है.

सीमा विवाद झड़प की वजह

पाकिस्तान ने तालिबान से यह सुनिश्चित करने का आह्वान किया है कि वह इस वादे को पूरा करे कि वह अंतरराष्ट्रीय आतंकवादियों को शरण नहीं देगा. तालिबान आतंकवादियों को शरण देने से इनकार करता आया है. साथ ही दशकों से सीमा से जुड़े विवाद पड़ोसियों के बीच विवाद का विषय रहे हैं. तालिबान ने 2,600 किमी सीमा पर बाड़ लगाने की पाकिस्तान की योजना को अवरुद्ध करने के दर्जनों प्रयास किये हैं, जो अक्सर दोनों देशों के बीच संघर्ष का कारण बनते हैं.

Leave a Reply

Required fields are marked *