भारत गौरव काशी दर्शन ट्रेन में बैठने वाले हर यात्री को मिलेंगे 5 हजार रुपए

भारत गौरव काशी दर्शन ट्रेन में बैठने वाले हर यात्री को मिलेंगे 5 हजार रुपए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज से दो दिवसीय दक्षिण भारत के दौरे पर हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री ने जहां बेंगलुरु में दक्षिण भारत की पहली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई वहीं उन्होंने भारत गौरव काशी दर्शन ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाई। प्रधानमंत्री ने इसके अलावा केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल-2 का भी उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री जब बैंगलुरु पहुँचे तो उनके आगमन को लेकर स्थानीय लोगों में बड़ा उत्साह देखा गया। आइये आपको सबसे पहले दिखाते हैं बैंगलुरु में जब सड़कों के दोनों ओर लोगों की भीड़ खड़ी थी तो प्रधानमंत्री कैसे सबका अभिवादन स्वीकार करने के लिए गाड़ी से बाहर आ गये और सड़क के दोनों ओर खड़े लोगों से मिले। भीड़ में शामिल लोगों ने मोदी, मोदी के नारे लगाए और वे भाजपा के झंड़े लेकर खड़े हुए थे।

जहां तक दक्षिण भारत की पहले वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन की बात है तो आपको बता दें कि प्रधानमंत्री ने बेंगलुरु के क्रांतिवीर संगोली रायण्णा केएसआर रेलवे स्टेशन से वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई। यह ट्रेन बेंगलुरु के रास्ते मैसूर और चेन्नई के बीच चलेगी। यह भारत की पांचवीं वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन है। वंदे भारत उद्घाटन स्पेशल ट्रेन केएसआर बैंगलुरु से सुबह 10:25 बजे रवाना हुई और आज शाम 05:20 बजे एमजीआर चेन्नई सेंट्रल पहुंचेगी। 16 कोचों वाली ये वंदे भारत ट्रेन बैंगलुरु छावनी, बैय्यप्पनहल्ली, कृष्णराजपुरम, व्हाइटफील्ड, देवनगोंथी, मलूर आदि स्टेशनों से गुजरेगी। 

इसके अलावा, प्रधानमंत्री ने भारत गौरव काशी दर्शन ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाई, जो रेलवे की भारत गौरव ट्रेन नीति के तहत कर्नाटक के मुजराई विभाग द्वारा चलाई जाएगी। दक्षिण पश्चिम रेलवे के अनुसार, यह काशी की यात्रा करने को इच्छुक कई यात्रियों के सपने को पूरा करेगी। इस ट्रेन में यात्रा के लिए आठ दिन का एक यात्रा पैकेज उपलब्ध होगा, श्रद्धालुओं को इसमें विशेष छूट दी जाएगी। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि कर्नाटक सरकार काशी विश्वनाथ यात्रा के तीर्थयात्रियों को अतिरिक्त पांच हजार रुपये भी देगी। यह ट्रेन वाराणसी, अयोध्या और प्रयागराज जैसे कई तीर्थ स्थलों पर भी जाएगी।

इसके अलावा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नादप्रभु केम्पेगौड़ा की 108 फुट ऊंची कांस्य प्रतिमा का अनावरण किया और पांच हजार करोड़ रुपये की लागत से बने केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल-2 का उद्घाटन किया। इसके उद्घाटन से हवाई अड्डा पर यात्रियों की क्षमता बढ़कर सालाना करीब पांच-छह करोड़ होने की उम्मीद है। अभी यह सलाना 2.5 करोड़ है। प्रधानमंत्री मोदी ने विधान सौध परिसर में संत-कवि कनक दास तथा महर्षि वाल्मीकि की प्रतिमाओं पर पुष्पांजलि अर्पित करके अपने दौरे की शुरुआत की। हम आपको बता दें कि संत कवि कनक दास की आज जयंती है।

प्रधानमंत्री मोदी सुबह बैंगलुरु के एचएएल हवाई अड्डे पहुंचे, जहां कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गहलोत, मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई, मंत्रिमंडल के कई सदस्यों, केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी, भारतीय जनता पार्टी भाजपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष नलिन कुमार कटील, भाजपा के संसदीय बोर्ड के सदस्य बी.एस. येदियुरप्पा, पार्टी के विधायकों और अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। प्रधानमंत्री मोदी के दौरे के मद्देनजर शहर और कार्यक्रम स्थलों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। मोदी के बैंगलुरु दौरे को अहम माना जा रहा है क्योंकि कर्नाटक में विधानसभा चुनावों में छह महीने से भी कम का वक्त बचा है। प्रधानमंत्री आज एक जनसभा में भी शिरकत करेंगे, जिसमें लाखों लोगों के पहुंचने की उम्मीद है। इसके बाद वह तमिलनाडु के डिंडीगुल जाएंगे।

Leave a Reply

Required fields are marked *