चेन्नई: पति अकेले खा रहा था बिरयानी, पत्‍नी ने मांगा तो केरोसिन तेल डालकर लगा दी आग

चेन्नई: पति अकेले खा रहा था बिरयानी, पत्‍नी ने मांगा तो केरोसिन तेल डालकर लगा दी आग

चेन्नई: तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है. यहां बिरयानी को लेकर हुए विवाद में 74 वर्षीय बुजुर्ग व्यक्ति ने पत्नी को जिंदा जला दिया. पति द्वारा आग लगाए जाने के बाद पत्नी ने पति को गले लगा लिया, जिससे आग पति भी आग की जद में आ गए. इस घटना में दोनों झुलस गए. इसके बाद दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पति-पत्नी दोनों की मौत हो गई.


घटना चेन्नई के अयनावरम की है. यहां सेवानिवृत्त रेलवे कर्मचारी करुणाकरण और उनकी पत्नी पद्मावती टैगो नगर में रहते थे. दंपति के 4 बच्चे हैं. जो शहर के अलग-अलग इलाकों में रहते हैं. बताया गया कि सोमवार की रात पड़ोसियों ने दंपति के घर से चीख-पुकार सुनी, जिसके बाद वो दौड़कर उनके घर गए. जहां पति-पत्नी बेहोशी के हालत में मिले. पड़ोसियों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया.


पद्मावती ने बताया पूरा घटनाक्रम

पुलिस पहले इस मामले को आत्महत्या का केस मान रही थी, लेकिन किलपौक हॉस्पिटल में मृत्यु से पहले पद्मावती ने जो कारण बताया वो बेहद डरावना था. पद्मावती ने पुलिस को बताया कि सोमवार की रात करीब 8 बजे करुणाकरण ने बिरयानी खरीदी और वो उसे अकेले ही खाने लगे. इस पर पत्नी ने करुणाकरण से पूछा कि उन्‍होंने उनके लिए खाना क्यों नहीं खरीदा. पद्मावती ने बिरयानी देने को कहा. इस पर दोनों में बहस हो गई. इसी बीच गुस्से में आकर करुणाकरण ने पद्मावती के ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी. पद्मावती ने पति को भी गले लगा लिया और दोनों झुलस गए.


छानबीन में जुटी पुलिस

पूरे मामले को लेकर अयनावरम पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. घटनाक्रम को लेकर जांच अधिकारी ने बताया कि दंपति के चारों बच्चे शहर के अलग-अलग इलाकों में रहते थे. बच्चों के साथ न रहने के कारण दोनों चिंतित रहा करते थे और हमेशा लड़ते थे. पुलिस ने बताया कि घटना के तुरंत बाद दंपति को अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां करुणाकरण 50% तो उनकी पत्नी 65% जली हुईं थी. जिसके बाद मंगलवार को पद्मावती की मृत्यु हो गई. पत्नी की मौत के एक दिन बाद बुधवार की सुबह करुणाकरण की भी मौत हो गई

Leave a Reply

Required fields are marked *