एंबुलेंस के लिए PM मोदी ने रुकवाया अपना काफिला

एंबुलेंस के लिए PM मोदी ने रुकवाया अपना काफिला

शिमला: हिमाचल प्रदेश में चुनावी रैलियों को संबोधित करने आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांगड़ा जिले के चम्बी में एंबुलेंस को रास्ता देने के लिए अपने काफिले को रोक दिया. हिमाचल प्रदेश भाजपा ने इसका एक वीडियो अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया है. भारतीय जनता पार्टी भाजपा की राज्य इकाई ने ट्वीट किया, वो कहते हैं ना कि इंसानियत से बढ़कर कुछ नहीं. ये बात ये दृश्य समझाता है. चम्बी, काँगड़ा में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने अपने काफिले को रोककर पहले एम्बुलेंस को जाने का रास्ता दिया.


प्रधानमंत्री ने बुधवार को राज्य के चम्बी और सुजानपुर में रैलियों को संबोधित किया. राज्य के विधानसभा चुनाव में चार में से अपनी आखिरी चुनावी रैली को हमीरपुर जिले के सुजानपुर में संबोधित करते हुए मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधा और उस पर राज्य के लोगों के साथ विश्वासघात करने का आरोप भी लगाया. पीएम मोदी ने दावा किया कि अगर कांग्रेस राज्य में सत्ता में आती है तो वह उनकी सरकार को काम नहीं करने देगी.


मोदी ने हमीरपुर जिले के सुजानपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए लोगों से कहा, हिमाचल में भाजपा की सरकार बननी चाहिए ताकि दिल्ली केंद्र सरकार को इसका फायदा मिल सके. इससे दोहरा लाभ होगा. उन्होंने कहा कि यहां के लोगों और मुद्दों से वाकिफ होने के नाते वह दिल्ली में रहकर राज्य के लिए काम कर सकेंगे. उन्होंने 2017 में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के चुने जाने के बाद इसकी प्रगति के लिए उठाये गये कई कदमों के बारे में जानकारी दी.


उन्होंने कहा कि यदि उनके लिए अनुकूल लोग यहां सत्ता में आते हैं तो वह हिमाचल के वास्ते बहुत कुछ कर सकते हैं और उन्हें राज्य के विकास को सुनिश्चित करने के लिए मौजूदा सत्तारूढ़ पार्टी को सत्ता से बाहर कर देने की परिपाटी को तोड़ने के लिए कहा. उन्होंने कहा, कांग्रेस स्वभाव से ही विकास की दुश्मन है. भाजपा ही हिमाचल को विकास की नई ऊंचाइयों पर ले जा सकती है. इसलिए भाजपा सरकार के लिए सत्ता में बने रहना जरूरी है सीधा सा हिसाब है. हिमाचल प्रदेश में 12 नवंबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है. भाजपा की नजर हिमाचल प्रदेश में सत्ता बरकरार रखने पर है.

Leave a Reply

Required fields are marked *