सपा नेता आजम खान 2 पुराने मामलों में अदालत में हुए पेश, 3 और 4 नवंबर को अगली सुनवाई

सपा नेता आजम खान 2 पुराने मामलों में अदालत में हुए पेश, 3 और 4 नवंबर को अगली सुनवाई

मुरादाबाद उप्र, मुरादाबाद की एमपी-एमएलए अदालत सांसद-विधायक अदालत में मंगलवार को समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान Azam Khan मंगलवार को सिने अभिनेत्री और रामपुर की पूर्व सांसद जया प्रदा के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने सहित दो पुराने मामलों में पेश हुए. अदालत ने दोनों मामलों की अगली सुनवाई के लिए तीन और चार नवंबर की तारीख मुकर्रर की है. जया प्रदा के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने से संबंधित 2019 के एक मामले और उनके वाहन की जांच के लिए पुलिस अभियान के विरोध में छजलैट इलाके में धरना देने से जुड़े 2008 के एक अन्य मामले के संबंध में खान मुरादाबाद अदालत में पेश हुए.


खान के अधिवक्‍ता शाहनवाज ने बताया कि अदालत ने उनके बचाव में तथ्यों के साथ उपस्थित होने की उनकी अपील को स्वीकार कर लिया तथा छजलैट और जयाप्रदा से संबंधित मामलों में सुनवाई के लिए क्रमश: तीन और चार नवंबर की तारीख तय की है. अधिवक्‍ता ने कहा कि खान अगली दो तारीखों को पेश होंगे. खान को बृहस्पतिवार को रामपुर की सांसद/विधायक अदालत ने 2019 के अभद्र भाषा के एक मामले में तीन साल कैद की सजा सुनाई थी. प्रावधानों के अनुसार आदेश के एक दिन बाद उन्हें उत्तर प्रदेश विधानसभा के सदस्य के रूप में अयोग्य घोषित कर दिया गया. अदालत ने खान को भड़काऊ भाषण देने के मामले में बृहस्पतिवार को दोषी करार देते हुए तीन साल कैद और छह हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई थी.


आजम खान ने पत्रकारों से बातचीत नहीं की, रामपुर लौट गए

जनप्रतिनिधित्व अधिनियम कहता है कि दो साल या उससे अधिक की सजा पाने वाले किसी भी व्यक्ति को ऐसी सजा की तारीख से विधानमंडल की सदस्यता के लिए अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा और जेल में समय बिताने के बाद छह साल के लिए अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा. 2008 में, खान और उनके समर्थकों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया था जब पुलिस ने उन्हें वाहनों की जांच के लिए रोका था और सपा नेता और समर्थकों ने हरिद्वार राजमार्ग पर छजलैट इलाके में धरना दिया था. 2019 में जया प्रदा के खिलाफ यहां एक सार्वजनिक समारोह में अपमानजनक टिप्पणी करने के लिए उनके खिलाफ एक और मामला दर्ज किया गया था. आजम खान ने पत्रकारों से बातचीत नहीं की और अदालती कार्यवाही के तुरंत बाद रामपुर के लिए रवाना हो गए. स्थानीय समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कहा कि उनके नेता की तबीयत ठीक नहीं है इसलिए वह बातचीत नहीं करेंगे. खान के बेटे और समाजवादी पार्टी के विधायक अब्दुल्ला आजम और कई अन्य समर्थक उनके साथ अदालत में गये थे.

Leave a Reply

Required fields are marked *