दीपावली की पूर्व संध्या पर रामनगरी अयोध्या में PM मोदी, महर्षि वशिष्ठ की भूमिका में करेंगें भगवान श्रीराम का राजतिलक

दीपावली की पूर्व संध्या पर रामनगरी अयोध्या में PM मोदी, महर्षि वशिष्ठ की भूमिका में करेंगें भगवान श्रीराम का राजतिलक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ दिवाली की पूर्व संध्या यानी 23 अक्टूबर को होने वाले दीपोत्सव में मेगा समारोह में शामिल होंगे। पीएम मोदी इस अवसर पर पहली बार अयोध्या में अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे। उही दीपोत्सव का छठा संस्करण है। दोनों के भव्य स्वागत के लिए सड़कों को तैयार किया गया और अयोध्या की सड़कों को पीएम मोदी और सीएम योगी दोनों की कट-आउट होर्डिंग तस्वीरों के साथ देखा जा सकता है। भगवान राम का राज्य अयोध्या मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के तहत भव्य दिवाली मनाने के लिए पूरी तरह तैयार है, जिन्होंने 2017 में अपने पदभार संभालने के पहले वर्ष में दीपोत्सव शुरू किया था।


सरयू नदी के किनारे दीपोत्सव के अवसर पर लाखों दीयों मिट्टी के दीपक से जगमगाने का इंतजार करते हैं। आयोजन के दौरान धोबिया, फरुवाही, राय और छाऊ जैसे लोक नृत्य के विभिन्न रूपों के माध्यम से उत्तर प्रदेश और कई अन्य राज्यों की संस्कृति को प्रदर्शित किया जाएगा। योगी आदित्यनाथ सरकार दीपोत्सव के आयोजन के माध्यम से न केवल राज्य के आध्यात्मिक और धार्मिक महत्व को बल्कि धोबिया और फरुवाही नृत्य कलाकारों को भी बढ़ावा देगी। पीएम मोदी यहां महर्षि वशिष्ठ की भूमिका में भगवान श्रीराम का राजतिलक करेंगें।  दीपोत्सव में हर बार सीएम योगी भगवान श्रीराम का राजतिलक करते रहे हैं।


अवध में ब्रज के कलाकार राम-कृष्ण की भूमि की संस्कृति, भाषा और अनूठी विशेषताओं से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर देंगे। बयान के मुताबिक अयोध्या में छठे दीपोत्सव पर भारत के कई राज्यों की भाषा और संस्कृति का संगम भी देखने को मिलेगा। 21 से 23 अक्टूबर तक उत्तर प्रदेश और कई राज्यों के कलाकार यहां परफॉर्म करेंगे। स्थानीय कलाकार विजय यादव और मुकेश कुमार फरुवाही नृत्य करेंगे जबकि आजमगढ़ के मुन्नालाल यादव धोबिया नृत्य करेंगे। गाजीपुर के कलाकार पारसनाथ यादव लोक गायन की प्रस्तुति देंगे।

Leave a Reply

Required fields are marked *