PM मोदी देहरादून पहुंचे, कुछ देर में करेंगे केदारनाथ के दर्शन, 3400 करोड़ की परियोजनाओं की देंगे सौगात

PM मोदी देहरादून पहुंचे, कुछ देर में करेंगे केदारनाथ के दर्शन, 3400 करोड़ की परियोजनाओं की देंगे सौगात

नई दिल्ली: दिवाली से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यानी 21 अक्टूबर को उत्तराखंड का दौरा करने जा रहे हैं, जहां अपनी इस यात्रा के दौरान केदारनाथ और बद्रीनाथ का दर्शन कर पूजा करेंगे. पीएम मोदी आज सुबह देहरादून स्थित जॉली ग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे, जहां मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और राज्यपाल गुरमीत सिंह ने उनका स्वागत किया. इसके बाद पीएम मोदी केदारनाथ के लिए रवाना होंगे. यात्रा के दौरान पीएम मोदी उत्तराखंड में 3,400 करोड़ रुपये से अधिक की विभिन्न परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे. पीएम मोदी आठ साल में छठी बार केदारनाथ का दौरा कर रहे हैं. बता दें कि उत्तराखंड में केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम का दौरा करने के बाद पीएम मोदी 23 अक्टूबर को अयोध्या भी जाने वाले हैं.


पीएमओ यानी प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी जानकारी के मुताबिक, पीएम नरेंद्र मोदी आज सुबह करीब साढ़े आठ बजे केदारनाथ मंदिर पहुंचेंगे और वहां दर्शन व पूजन करेंगे. इसके बाद करीब नौ बजे वह केदारनाथ रोपवे परियोजना का शिलान्यास करेंगे. इतना ही नहीं, प्रधानमंत्री मोदी आदि गुरु शंकराचार्य के समाधि स्थल भी जाएंगे और मंदाकिनी और सरस्वती नदी के किनारे चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा करेंगे.प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के मुताबिक, पीएम मोदी इसके बाद करीब 11.30 बजे बद्रीनाथ पहुंचेंगे और फिर वहां मंदिर में पूजा व दर्शन करेंगे. प्रधानमंत्री वहां रिवरफ्रंट विकास कार्य की प्रगति की समीक्षा करेंगे तथा माणा गांव में सड़क और रोपवे परियोजना की आधारशिला रखेंगे. इसके बाद करीब दो बजे प्रधानमंत्री अराइवल प्लाजा और झीलों के विकास कार्य की भी समीक्षा करेंगे.


पीएमओ ने कहा कि इन अवसंरचना विकास कार्यक्रमों से उत्तराखंड में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और इससे क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियों में तेजी आएगी. प्रधानमंत्री के इस दौरे के दौरान सड़कों के चौड़ीकरण की करीब 1,000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की भी आधारशिला रखी जाएगी. दरअसल,स केदारनाथ का रोपवे 9.7 किलोमीटर लंबा होगा और यह गौरीकुंड को केदारनाथ से जोड़ेगा. इससे दोनों स्थानों की यात्रा का समय करीब 30 मिनट हो जाएगा. फिलहाल इस दूरी को तय करने में छह से सात घंटे का समय लगता है.


वहीं, हेमकुंड का रोपवे गोविंदघाट को हेमकुंड साहिब से जोड़ेगा. इसकी लंबाई करीब 12.4 किलोमीटर होगी. इससे इस दूरी को 45 मिनट में पूरा किया जा सकेगा. अभी इस दूरी को तय करने में करीब दिन भर लग जाते हैं. यह रोपवे घांघरिया को फूलों की घाटी राष्ट्रीय पार्क से भी जोड़ेगा. इन रोपवे को तकरीबन 2430 करोड़ रुपये की लागत से विकसित किया जाएगा. ये पर्यावरण हितैषी होंगे और इनसे यात्रा करना सुलभ व सुरक्षित भी होगा.


ऐसा है पीएम मोदी का पूरा कार्यक्रम

सुबह 8.30: केदारनाथ मंदिर पूजा-अर्चना

सुबह 9 बजे: केदारनाथ रोपवे भूमिपूजन

सुबह 9.10: आदिगुरु शांकराचार्य समाधीस्थल

सुबह 11.30: बद्रीनाथ टेम्पल पूजा अर्चना

दोपहर 12.05: विकास कार्यों का जायजा

शाम 5.00: बद्रीनाथ थीमेटिक प्रेजेंटेशन

Leave a Reply

Required fields are marked *