गूगल के नए एल्‍गोरिथम ने बदला न्‍यूज वेबसाइटों का गणित, विजिटर्स की संख्‍या घटकर आधी रह गई

गूगल के नए एल्‍गोरिथम ने बदला न्‍यूज वेबसाइटों का गणित, विजिटर्स की संख्‍या घटकर आधी रह गई

नई दिल्ली, गूगल के लेटेस्ट कोर एल्गोरिथम अपडेट के कारण सितंबर में यूके की दस प्रमुख न्यूज वेबसाइटों की सर्च विजिबलिटी रैंकिंग में कमी आई है. दर्शकों के साइज के हिसाब से प्रभावित होने वाले टॉप 25 पब्लिशर्स में से ज्यादातर यूथ-फोक्स्ड वेबसाइट हैं. Sistrix के डेटा के मुताबिक इन वेबसाइट की गूगल सर्च रैंकिंग में 52 प्रतिशत तक की गिरावट देखने को मिली है. वहीं दूसरी ओर कुछ वेबसाइटों में रैंकिग में सुधार हुआ है.


DMGT के स्वामित्व वाले iऔर Mail Online दोनों ने अपडेट में अपनी सर्च विजिबलिटी में 37% की गिरावट दर्ज की. यह गिरावट 12 सितंबर को शुरू हुई और 27 सितंबर तक जारी रही. मेल ऑनलाइन के प्वाइंट 76.2 से गिरकर 48.2 पर आ गए हैं. प्वाइंट के आधार पर यह विजिबलिटी स्कोर में सबसे बड़ी गिरावट है. इस बीच आई का विजिबलिटी स्कोर 12.7 से गिरकर 7.9 पर आ गया है. वहीं Ladbible की रैंकिंग में 52 प्रतिशत कम हुई है. एल्गोरिथम में दूसरा बदलाव

सिस्ट्रिक्स का विजिबलिटी का इंडेक्स मेशर्ज, गूगल सर्च रिजल्ट में वेबसाइट सर्चिंग के आधार पर साइटों को स्कोर प्रदान करता है. इनमें वे वेबसाइट शामिल होती हैं, जो सर्च रिजल्ट में बेहतर रैंक करते हैं. सितंबर का कोर एल्गोरिथम अपडेट 2022 में सर्च दिग्गज के एल्गोरिथम में दूसरा बदलाव था. हालांकि, गूगल लगातार अपने एल्गोरिथम को मॉडिफाई कर रही है. उल्लेखनीय है कि यूके में हर प्रमुख न्यूज वेबसाइट के लिए गूगल ट्रैफिक का सबसे बड़ा सोर्स है.स्पैम साइट को दंडित

लेटेस्ट कोर अपडेट गूगल के हेल्पफुल अपडेट के कुछ ही हफ्तों बाद आया, जो 9 सितंबर को पूरा हुआ था. इसे पब्लिशर्स पर नकेल कसने के लिए डिजाइन किया गया था. SEO स्पेशलिस्ट योस्ट के अनुसार इस अपडेट के बाद कुछ लो क्वालिटी स्पैम साइट को दंडित किया गया था.

40 फीसदी तक ट्रैफिक कम

योस्ट ने आगे कहा कि कहा भले ही लेटेस्ट अपडेट पिछले कुछ अपडेट जितना बड़ा नहीं था, लेकिन इसका पब्लिशर्स पर बहुत अधिक प्रभाव पड़ा है. योस्ट ने अपनी वेबसाइट पर कहा कि सितंबर में गूगल का मुख्य अपडेट हाई क्वालिटी कंटेट को रिवार्ड करने देने के लिए था. इस अपडेट का पब्लिेशन इंडस्ट्री पर एक व्यापक प्रभाव पड़ा. इसके चलते कुछ इंफोर्मेशन साइट्स जो रिव्यू और इंफोर्मेटिव गाइडलाइंस पब्लिश करती हैं उनके ट्रैफ़िक का 40 फीसदी तक ट्रैफिक कम हो गया है.


गूगल पर लगा आरोप

इस बीच डीएमजी मीडिया की मेल ऑनलाइन पब्लिशर्स ने गूगल पर liberal और centrist साइटों पक्ष में सर्च इंजन पर स्टोरीज को गलत तरीके डाउनग्रेड करने का आरोप लगाया है. बता दें कि मेल ऑनलाइन दुनिया की छठी सबसे लोकप्रिय अंग्रेजी समाचार वेबसाइट है. Google पर इसकी विजिबलिटी 2021 की शुरुआत में लगभग 100 से गिरकर मध्य वर्ष तक लगभग आधे हो गई. हालांकि, इस वर्ष की पहली छमाही तक इसकी विजिबलिटी ठीक हो गई. लेकिन लेटेस्ट एल्गोरिथम अपडेट ने इसे फिर से 2021 के मध्य के स्तर पर पहुंचा दिया है.


सभी पब्लिशर्स की विजिबलिटी नही हुई कम

कई पब्लिशर्स ने पाया कि उनकी सर्च विजिबलिटी में या तो कोई बदलाव नहीं हुआ या फिर ले थोड़ी सी प्रभावित हुई है. इस दौरान द गार्जियन का स्कोर 253.3 से बढ़कर 266.9 ,5% पहुंच गिया. द गार्जियन ने 14 अंक उछाल हासिल किया, जबकि वेल्स ऑनलाइन की विजिबलिटी 66% तक थी. वही, लिवरपूल इको का स्कोर 64 प्रतिशत रहा. यह सभी उन पब्विशर्स में शामिल हैं, जिनकी रैंकिंग में सुधार देखने को मिला है.

Leave a Reply

Required fields are marked *