ईरान में विरोध प्रदर्शन दबाने की कोशिश! अमेरिकी नागरिकों सहित 14 विदेशी हुए गिरफ्तार

ईरान में विरोध प्रदर्शन दबाने की कोशिश! अमेरिकी नागरिकों सहित 14 विदेशी हुए गिरफ्तार

तेहरान, ईरान में महसा अमीनी की मौत Death of Mahsa Amini के बाद देशभर में प्रदर्शन हो रहा है. इस प्रदर्शन को विदेशियों का भी समर्थन मिल रहा है. एक रिपोर्ट के मुताबिक ईरानी सुरक्षा बलों ने अमेरिकी, ब्रिटिश और फ्रांसीसी नागरिकों सहित 14 विदेशियों को सरकार विरोधी प्रदर्शनों में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार किया है.


न्यूज एजेंसी फार्स की रिपोर्ट के मुताबिक, ईरानी अधिकारियों ने अभी तक कोई टिप्पणी नहीं की है. ईरान ने 16 सितंबर को 22 वर्षीय महसा अमीनी की हिरासत में मौत के बाद भड़के राष्ट्रव्यापी विरोध के लिए विदेशी दुश्मनो से जुड़े ठगो को दोषी ठहराया है.


संयुक्त राज्य अमेरिका, रूस, ऑस्ट्रिया, फ्रांस, यूनाइटेड किंगडम और अफगानिस्तान सहित 14 देशों के नागरिकों को ईरान में हाल के दंगों में गिरफ्तार किया गया है, जिनमें से अफगान नागरिक सबसे अधिक हैं. फार्स के मुताबिक यह गिरफ्तारी कब और कहां हुई इसकी ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई है. पिछले महीने विरोध प्रदर्शन में तेहरान ने कहा था कि गिरफ्तारी में 9 विदेशी शामिल हैं, लेकिन यह स्पष्ट नहीं था कि कथित गिरफ्तारी में 9 विदेशी शामिल हैं या नहीं.


ईरान की नैतिकता पुलिस की हिरासत में अमीनी की मौत से शुरू हुआ राष्ट्रव्यापी विरोध, 1979 की क्रांति के बाद से ईरान के लिपिक शासकों के लिए सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक बन गया है. प्रदर्शनकारियों ने इस्लामिक गणराज्य के पतन का आह्वान किया है. तेहरान ने संयुक्त राज्य अमेरिका और कुछ यूरोपीय देशों पर अशांति फैलाने का आरोप लगाया है.


बता दें कि ईरान में चल रहे महिलाओं के प्रदर्शन को अंतरराष्ट्रीय समर्थन भी मिला है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने ट्वीट कर महिलाओं और ईरान के लोगों की स्वतंत्रता के लिए अपना समर्थन दिया. बाइडन ने लिखा, संयुक्त राज्य अमेरिका ईरानी महिलाओं और नागरिकों के साथ खड़ा है, जिनके साहस ने दुनिया को प्रेरित किया है.

Leave a Reply

Required fields are marked *