1992, 2015 और अब 2022, ऑस्ट्रेलिया में किस टीम का प्रदर्शन है सबसे शानदार, क्या भारतीय टीम फिर चूक तो

1992, 2015 और अब 2022, ऑस्ट्रेलिया में किस टीम का प्रदर्शन है सबसे शानदार, क्या भारतीय टीम फिर चूक तो

नई दिल्ली, रोहित शर्मा Rohit Sharma पर सभी की नजर है. उनकी अगुआई में टीम इंडिया टी20 वर्ल्ड कप में उतर रही है. फैंस को टीम से बड़ी उम्मीद है. इसकी वजह ये है कि भारत ने इस साल सबसे अधिक टी20 इंटरनेशनल के मुकाबले जीते हैं. हालांकि टीम 15 साल से टी20 वर्ल्ड कप T20 World Cup 2022 का खिताब नहीं जीत सकी है. टीम ने अंतिम बार 2007 में एमएस धोनी की अगुआई में टाइटल जीता था. क्या इस बार टीम के लिए राह आसान रहने वाली है, ऑस्ट्रेलिया के इतिहास देखकर ऐसा बिल्कुल भी नहीं लगता है. ऑस्ट्रेलिया में भले ही पहली बार टी20 वर्ल्ड कप हो रहा है. इससे पहले यहां 2 बार वनडे वर्ल्ड कप खेला जा चुका है और टीम इंडिया का प्रदर्शन इस दौरान कुछ खास नहीं रहा. टी20 वर्ल्ड कप 16 अक्टूबर से शुरू हो रहा है. कुल 16 टीमें उतर रही हैं. भारतीय टीम अपने पहले मुकाबले में 23 अक्टूबर को पाकिस्तान से भिड़ेगी.

ऑस्ट्रेलिया में 1992 में पहली बार क्रिकेट का वर्ल्ड कप आयोजित किया गया. न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में संयुक्त रूप से हुए इस वनडे टूर्नामेंट की बात करें, तो यह टीम इंडिया के लिए कुछ खास नहीं रहा था. टीम 8 में से सिर्फ 2 ही मैच जीत सकी थी. 5 में उसे हार मिली थी. हालांकि टीम पाकिस्तान को हराने में सफल रही थी. सचिन तेंदुलकर के नाबाद 54 रन के सहारे भारत ने पहले खेलते हुए 216 रन बनाए थे. जवाब में पाकिस्तान की टीम 173 रन ही बना सकी थी. भारत ने एक मैच में जिम्बाब्वे को भी शिकस्त दी थी.


पाकिस्तान ने रचा था इतिहास

पाकिस्तान ने 1992 का वर्ल्ड कप जीतकर इतिहास रचा था. यह उसका वर्ल्ड कप का पहला टाइटल था. मेलबर्न में खेले गए फाइनल में उसने इंग्लैंड को 22 रन से शिकस्त दी थी. कप्तान इमरान खान के 72 रन के सहारे पाकिस्तान ने पहले खेलते हुए 6 विकेट पर 249 रन बनाए थे. जवाब में इंग्लैंड की टीम 227 रन बनाकर ऑलआउट हो गई थी. वसीम अकरम और मुश्ताक अहमद ने 3-3 विकेट झटके थे.2015 में कंगारू खुद बने चैंपियन

2015 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में दूसरी बार संयुक्त रूप से वनडे वर्ल्ड कप के मुकाबले खेले गए. इस बार भारतीय टीम ने ग्रुप राउंड में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए सभी 6 मैच जीते. एमएस धोनी की अगुआई में टीम ने साउथ अफ्रीका, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज को मात दी. फिर टीम ने क्वार्टर फाइनल में बांग्लादेश को मात दी. हालांकि टीम का विजय रथ सेमीफाइनल में रूक गया.ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 95 रन से बड़ी शिकस्त देकर उसकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया. सेमीफाइनल में कंगारू टीम ने पहले खेलते हुए 7 विकेट पर 328 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया. स्टीव स्मिथ ने 105 रन की शतकीय पारी खेली थी. एरॉन फिंच ने भी 81 रन बनाए थे. जवाब में भारतीय टीम 233 रन बनाकर सिमट गई थी. एमएस धोनी ने 65 रन बनाए थे. जेम्स फॉकनर ने 3 विकेट लिए थे. अब 2022 में रोहित क्या यह इतिहास बदल पाते हैं, देखना होगा. इतिहास यहां पाकिस्तान के साथ है.

Leave a Reply

Required fields are marked *