राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कहा- गुजरात में पैदा होने वाला नमक सभी भारतीय खाते हैं

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कहा- गुजरात में पैदा होने वाला नमक सभी भारतीय खाते हैं

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सोमवार शाम कहा कि देश में 76 फीसद नमक का उत्पादन गुजरात करता है और यह कहा जा सकता है कि राज्य द्वारा उत्पादित नमक सभी भारतीयों द्वारा खाया जाता है। जुलाई में राष्ट्रपति के रूप में पदभार संभालने के बाद गुजरात की पहली यात्रा पर पहुंचीं मुर्मू यहां राज्यपाल आचार्य देवव्रत द्वारा आयोजित अभिनंदन कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों में गुजरात के योगदान की प्रशंसा की और कहा कि राज्य के लोग अपने कठिन परिश्रम समर्पण और समाज सेवा को लेकर दुनियाभर में जाने जाते हैं।राष्ट्रपति ने कहा भारत दुग्ध उत्पादन एवं उपभोग की दृष्टि से पहले नंबर पर है। गुजरात में दुग्ध सहकारी संगठनों द्वारा लायी गयी श्वेत क्रांति इसमें एक अहम भूमिका निभाती है। गुजरात देश के 76 फीसद नमक का उत्पादन करता है। यह कहा जा सकता है कि सब देशवासी गुजरात का नमक खाते हैं। उन्होंने कहा प्राचीन काल से गुजरात भारत की संस्कृति एवं सभ्यता का बड़ा केंद्र रहा है। हड़प्पा सभ्यता से जुड़ा धोलावीरा गुजरात में है। सम्राट अशोक का शिलालेख जूनागढ़ में तथा मोधेरा में सूर्य मंदिर है। सूरत और मांडवी के व्यापारिक केंद्र समृद्ध संस्कृति के प्राचीन उदाहरण हैं। मुर्मू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात की प्रगतिशील एवं समावेशी संस्कृति के आदर्श प्रतिनिधि हैं। उन्होंने कहा तत्कालीन मुख्यमंत्री के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात मॉडल को एक आकार दिया जिससे राज्य की प्रगति का मार्ग प्रशस्त हुआ। दो दिवसीय यात्रा पर पहुंचीं मुर्मू ने कहा कि गुजरात सरकार औद्योगिक विकास के साथ ही पर्यावरण के संरक्षण को शीर्ष प्राथमिकता दे रही है।उन्होंने कहा गुजरात सर्वाधिक निवेशक अनुकूल राज्यों में शामिल है।

Leave a Reply

Required fields are marked *