आजमगढ़ में हत्या के आरोपी के घर चला बुलडोजर मर्डर के दूसरे दिन कार्रवाई

आजमगढ़ में हत्या के आरोपी के घर चला बुलडोजर मर्डर के दूसरे दिन कार्रवाई

आजमगढ़ में मंगलवार देर शाम 23 साल के आदर्श मिश्रा की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मर्डर के दूसरे दिन यानी मंगलवार को पुलिस ने कार्रवाई की। हत्या के आरोपी सुशील यादव उर्फ गोल्डी के घर बुलडोजर चला। बैठका और तालाब की जमीन पर बने अवैध निर्माण को गिराया गया।


मंगलवार को हत्या की सूचना मिलते ही डीआईजी अखिलेश कुमार और एसपी अनुराग आर्य ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया। चार अगस्त को जिले के दौरे पर आए सीएम योगी ने हरिहरपुर में आदर्श को सम्मानित भी किया था। वह संगीत से जुड़े थे।

प्रयागराज में एक12 वर्षीय किशोर मंगलवार की रात घर में संदिग्ध अवस्था में बेहोश पड़ा था। परिजन उसे आनन फानन अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घरवालों ने हत्या की आशंका जताई है। सूचना पर एसपी यमुनापार सीओ करछना समेत अन्य अफसर पहुंच गए। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा।

औद्योगिक थाना क्षेत्र के ईदो गांव निवासी लाल बहादुर यादव पिछले 20 वर्ष से बेंदौ यादव बस्ती में रहकर किसानी करते हैं। उनके दो बेटों में से छोटा बेटा अनुराग यादव (12) कल रात में घर के बाहर बने झोपड़ी में संदिग्ध अवस्था में अचेत पड़ा था। घर के लोग उसे आनन-फानन में अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

परिवार वालों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए मोर्चरी भेज दिया है। मौके पर पुलिस अधीक्षक यमुनापार सौरभ दीक्षित ने पहुंचकर परिजनों से पूछताछ की। औद्योगिक थानाध्यक्ष संजीव चौबे ने बताया कि किशोर के शरीर पर कोई चोट के निशान नहीं मिले हैं। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद ही यह स्पष्ट को सकेगा कि आखिर किशोर की मौत कैसे हुई है।

Leave a Reply

Required fields are marked *