नहीं रहे कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव डेढ़ महीने से अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहे थे

नहीं रहे कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव डेढ़ महीने से अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहे थे

लोकप्रिय हास्य कलाकार और अभिनेता राजू श्रीवास्तव का बुधवार सुबह दिल्ली के एम्स अस्पताल में निधन हो गया। राजू श्रीवास्तव को 10 अगस्त को दिल का दौरा पड़ने के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह तभी से जीवन रक्षक प्रणाली वेंटिलेटर पर थे। राजू श्रीवास्तव की 10 अगस्त को ही एंजियोप्लास्टी हुई थी। वह तभी से बेहोश थे। उनके भाई दीपू श्रीवास्तव ने पिछले सप्ताह बताया था कि उनके भाई धीरे धीरे ठीक हो रहे हैं लेकिन वह अभी भी बेहोश हैं। उल्लेखनीय है कि राजू श्रीवास्तव को जिम के दौरान दिल का दौरा पड़ा था जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हम आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी राजू श्रीवास्तव की पत्नी को कॉल करके कॉमेडियन की तबीयत के बारे में पूछा था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पहले स्टैंडअप कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव की तबीयत के बारे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी हालचाल ले चुके थे। उल्लेखनीय है कि राजू श्रीवास्तव का जन्म 25 दिसंबर 1963 को कानपुर में हुआ था। उनके पिता रमेश चंद्र श्रीवास्तव प्रसिद्ध कवि थे। वो बलाई काका के नाम से कविता सुनाया करते थे। राजू ने एक साक्षात्कार में बताया था कि बचपन में उनको भी कविता सुनाने को कहा जाता था जिसके बाद वह जन्मदिन समारोहों में कविताएं सुनाया करते थे। राजू श्रीवास्तव के कॅरियर पर एक नजर 1982 में राजू श्रीवास्तव मुंबई आए थे। एक साक्षात्कार में राजू श्रीवास्तव ने बताया थ कि मुंबई में शुरुआती दिनों में अपना गुजारा करने के लिए उन्होंने ऑटो रिक्शा भी चलाया था। उन्होंने बॉलीवुड फिल्मों में छोटे छोटे रोल करके अपने फिल्मी कॅरियर की शुरुआत की थी। उन्होंने सलमान खान की मैंने प्यार किया फिल्म में एक ट्रक क्लीनर का छोटासा रोल भी किया था। शाहरुख़ खान की फिल्म बाजीगर में राजू श्रीवास्तव कॉलेज स्टूडेंट के रोल में दिखे थे। इसके अलावा उन्होंने आमदनी अठन्नी खर्चा रुपइया वाह तेरा क्या कहना मैं प्रेम की दीवानी हूं जैसी फिल्मों में छोटी भूमिकाएं भी की थीं। वर्तमान में राजू श्रीवास्तव उत्तर प्रदेश फिल्म विकास परिषद के अध्यक्ष हैं और यूपी में बन रही फिल्म सिटी परियोजना को देख रहे थे। वह भाजपा के लिए चुनाव प्रचार भी करते रहे हैं।अभिनय क्षेत्र की बात करें तो राजू श्रीवास्तव की जिंदगी तब बदल गई थी जब उन्होंने 2005 में स्टार वन के पॉपुलर शो द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज में भाग लिया था। यह शो काफी लोकप्रिय रहा था और राजू श्रीवास्तव की पहुँच हर घर तक हो गयी थी। इसके बाद राजू श्रीवास्तव ने एक और लोकप्रिय रियलिटी शो बिग बॉस सीजन3 में भी भाग लिया था। कॉमेडी शो महामुकबाला सीजन6 और नच बलिए जैसे शो में भी राजू श्रीवास्तव नजर आ चुके हैं। नच बलिए में राजू श्रीवास्तव अपनी पत्नी के साथ नजर आए थे। फिल्मों के प्रति अपनी रुचि के बारे में राजू श्रीवास्तव ने एक साक्षात्कार में बताया था कि अमिताभ बच्चन की शोले फिल्म देखने के बाद उन्हें यह फिल्म बहुत ही अच्छी लगी थी और अमिताभ के किरदार का असर उन पर पड़ा था। जिसके बाद उन्होंने उनके जैसा उठना बैठना बोलना शुरू कर दिया था। अमिताभ की मिमिक्री में सफल रहने के बाद राजू ने अन्य कलाकारों की आवाजें निकालना भी शुरू कर दिया था। राजू श्रीवास्तव रोजमर्रा की गतिविधियों को हास्य के साथ इस तरह जोड़ कर प्रस्तुत करते थे कि लोग हंसते हंसते पागल हो जाते हैं। फिलहाल तो सभी के चेहरे पर मुस्कान बिखेरने वाले राजू खुद जिंदगी और मौत के बीच चल रही जंग हार गये हैं जिससे उनके करोड़ों प्रशंसकों को निराशा हुई है।

Leave a Reply

Required fields are marked *